खेल

विंबलडन जीतने के प्रबल दावेदार नडाल क्वार्टर फ़ाइनल में भी नहीं पहुँच पाए, मूलर ने हराया

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
121
| जुलाई 11 , 2017 , 15:33 IST | लंदन

लक्जमबर्ग के टेनिस खिलाड़ी जाइल्स मूलर ने साल के तीसरे ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंट विंबलडन में बड़ा उलटफेर करते हुए स्पेन के दिग्गज खिलाड़ी राफेल नडाल को टूर्नामेंट से बाहर कर दिया है। नडाल और मुलर के बीच पुरुष एकल वर्ग के चौथे दौरा का यह मैराथन मुकाबला चार घंटे 48 मिनट तक चला। 

समाचार एजेंसी एफे के मुताबिक, 34 वर्षीय मुलर ने सोमवार देर रात खेले गए मैच में नडाल को मुकाबले में 6-3, 6-4, 3-6, 4-6, 15-13 से मात देते हुए क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई। मुलर ने नडाल को 2005 में भी विंबलडन में ही मात दी थी। नडाल तब सिर्फ 19 वर्ष के थे। 


15 ग्रैंड स्लैम जीतने वाले नडाल इस टूर्नामेंट में अपने तीसरे विंबलडन खिताब जीतने का सपना लेकर कोर्ट पर उतरे थे। इस साल रिकार्ड 10वीं बार फ्रेंच ओपन का खिताब जीतने वाले नडाल ने 2008 और 2010 में स्विट्जरलैंड के रोजर फेडरर को मात देते हुए जीत हासिल की थी।

मैच के बाद मुलर ने कहा, "मुझे पता नहीं चला कि क्या हो गया। मैं थका हुआ हूं। मैं खुश हूं कि यह मैच खत्म हो गया। मैं पहले से ही मैच खत्म होने और कल दोबारा आकर खेलने के बारे में सोच रहा था। इस तरह के मैच जीतना बेहद सुकूनदायक अहसास है।"


उलटफेर का शिकार हुए नडाल ने मुलर की तारीफ की। उन्होंने शानदार खेल खेला। यह मेरा सर्वश्रेष्ठ मैच नहीं था, लेकिन मैं बेहद असहज प्रतिद्वंद्वी के सामने खेला। मैंने वापसी के लिए अच्छा प्रयास किया, लेकिन कुछ गलतियों के कारण हार गया। दर्शकों से समर्थन मिलने से अच्छा लगा, उनसे माफी मांगता हूं।"

मुलर अगले दौर में क्रोएशिया के मारिन सिलिक से भिड़ेंगे। सिलिक ने स्पेन के रोर्बेटो बाउतिस्ता को चौथे दौर में 6-2, 6-2, 6-2 से मात देते हुए अंतिम आठ में जगह बनाई है।


कमेंट करें