नेशनल

गोरखालैंड पर GJM कर रहा बड़े विद्रोह की तैयारी! ले रहा माओवादियों से ट्रेनिंग

अनुराग गुप्ता, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
195
| जुलाई 23 , 2017 , 14:57 IST | नई दिल्ली

गोरखालैंड के नाम से अलग राज्य की मांग को लेकर आंदोलन हिंसक रूप लेने में लगा हुआ है। पश्चिम बंगाल पुलिस ने दावा किया है कि अलग गोरखालैंड राज्य के लिए गोरखालैंड जनमुक्ति मोर्चा सशस्त्र संघर्ष के रास्ते पर बढ़ रही है और वो इस काम में पड़ोसी देशों के माओवादियों को बुलाकर मदद ले रही है। ताकि वो उसके कैडर को सशस्त्र हमले के लिए ट्रेंड कर सकें। इस रिपोर्ट के बाद एजेंसियों के कान खड़े हो गए हैं।

Article-2384217-1B227729000005DC-981_634x399

पश्चिम बंगाल के अधिकारियों के मुताबिक जीजेएम ने पड़ोसी देशों से 25-30 माओवादियों को अपने पास बुलाया है, ताकि वो पार्टी के काडर और सशस्त्र संघर्ष के रास्ते पर आने वाले युवाओं को हथियारों की ट्रेनिंग दे सकें। वहीं अधिकारियों ने दावा किया है कि जीजेएस के निशाने पर वरिष्ठ पुलिस अधिकारी एवं पश्चिम बंगाल के अधिकारी हैं।

वहीं खबर है कि जीजेएम आंदोलन को हिंसक रूप देने के लिए तेजी से आधुनिक हथियारों को जमा कर रहा है, जिससे वो सरकार को चुनौती दे सकें। एडीजी लॉ एंड ऑर्डर अनुज शर्मा ने बताया कि हमें इंटेलिजेंस एजेंसियों से इनपुट मिले हैं कि जीजेएम द्वारा पड़ोसी देशों के माओवादियों को पैसे देकर बुलाया गया है। ताकि वो अपने लड़को को तैयार कर सकें। वहीं ये लोग सरकारी प्रापर्टी और पुलिस व प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों को निशाना बना सकते हैं।

Darjeeling-7598

वहीं जीजेएम ने इस तरह के आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि इस तरह के निराधार बयान एक लोकतांत्रिक आंदोलन को बदनाम करने के मकसद से दिए जा रहे हैं। बता दें कि एक अधिकारी ने नाम न बताए जाने की शर्त पर बताया कि पिछले कुछ सालों से जीजेएम बड़ी मात्रा में हथियार एवं गोला-बारूद एकत्रित कर रहा है।


कमेंट करें