मनोरंजन

कुंदन लाल सहगल शायद एकमात्र ऐसे गायक हैं जिनके नाम पर 'सहगल युग' है

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 1
195
| अप्रैल 11 , 2018 , 09:42 IST

विश्व के सबसे बड़े सर्च इंजन गूगल ने आज (11 अप्रैल, 2018) भारत के दिग्गज एक्टर और सिंगर केएल सहगल के 114वें जन्मदिन पर उनका डूडल बनाया है। 11 अप्रैल, 1904 को जम्मू में जन्मे कुंदनलाल सहगल को भारत का पहला सुपरस्टार माना जाता था। उनकी ख्याति का अंदाजा महज इसी बात से लगाया जा सकता है कि उस दौर के इस दिग्गज एक्टर ने 200 फिल्मी गाने गाए।

Kls

सहगल ने कई गैर फिल्मी गाने भी गाए जो आज भी युवाओं के दिलों की धड़कन बने हुए हैं। वो सहगल ही थे जो अपने गायन के दम पर भारतीय फिल्मी दुनिया को नई ऊंचाइयों पर ले गए। उनके गाने- जब दिल ही टूट गया, एक बंग्ला बने न्यारा, हम अपना उन्हें बना ना सके, दो नैना मतवाले तिहारे, मैं क्या जानू क्या जादू है, किताबें तकदीर आदि आज भी युवाओं के पसंदीदा बने हुए हैं।
साल 1931-32 के बीच भारतीय सिनेमा में कदम रखने के बाद सहगल अगले कुछ ही सालों में फिल्मों दुनिया में सबसे मशहूर शख्शियत के रूप में उभरे। साल 1935 से 1947 तक उन्होंने गायकी और एक्टिंग की दुनिया एकक्षत्र राज किया। एक रिपोर्ट के मुताबिक फिल्मी दुनिया में कदम रखने के बाद केएल सहगल ने अपने 15 साल के करियर में कुल 36 फिल्मों में काम किया। इनमें उन्होंने 28 हिंदी फिल्में की जबकि 7 बंगाली फिल्मों में काम किया।

इसमें प्रेसिडेंट, माई सिस्टर, जिंदगी, चांदीदास, भक्त सूरदास तानसेन और अन्य खासी हिट रहीं। हालांकि इस दिग्गज कलाकार का महज 42 साल की उम्र में निधन हो गया। बाद में वह लता मंगेशकर, किशोर कुमार, मोहम्मद रफी और मुकेश सहित कई दिग्गज गायकों के लिए प्रेरणा बन गए।

गूगल ने आज भारतीय इतिहास के इसी दिग्गज का डूडल बनाया है। डूडल में केएल सहगल की जिस तस्वीर का इस्तेमाल किया गया है उसमें वह गाना गा रहे हैं। उनकी तस्वीर के पीछे कोलकाता के कुछ तस्वीरें लगाई हैं। ऐसा इसलिए है क्योंकि पूर्व में भारतीय फिल्मी दुनिया और बॉलीवुड का केंद्र कोलकाता होता था। बाद के सालों में बॉलीवुड सिनेमा जगत मुंबई की तरफ आकर्षित हुआ।

 


कमेंट करें