नेशनल

ममता ने ठुकराई राजनाथ की सलाह, TMC के मंत्री ने राज्यपाल को कहा 'तोता'

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
194
| जुलाई 6 , 2017 , 16:09 IST | कोलकाता

पश्चिम बंगाल के नार्थ 24 परगना जिले में फैली हिंसा के बीच राज्य की ममता सरकार और गवर्नर केशरीनाथ त्रिपाठी के बीच विवाद काफी बढ़ गया है। राज्यपाल ने तीसरे दिन भी ममता बनर्जी से कहा है कि वह 'किसी भी जाति, पंथ या समुदाय में भेदभाव के बिना शांति बनाए रखने' के लिए बाध्य हैं। जिसके बाद ममता बनर्जी के पार्टी की तरफ से भी कई बयान आएं।

राज्यपाल की कड़ी टिप्पणियों पर प्रतिक्रिया देते हुए ममता मंत्रिमंडल के सदस्य सुब्रत मुखर्जी ने राज्यपाल को 'तोता' बताया, और अपनी पार्टी के दावे को दोहराया कि केशरीनाथ त्रिपाठी भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के इशारे पर मुख्यमंत्री को नीचा दिखाने के लिए काम कर रहे हैं।

Bashirhat-violence_650x400_41499325181

सीएम ममता बनर्जी के गवर्नर पर तीखे हमले के एक दिन बाद राज्य के शिक्षा मंत्री पार्था चटर्जी ने कहा, 'गवर्नर केएन त्रिपाठी ने संवैधानिक दायरा लांघा है। राजभवन बीजेपी पार्टी ऑफिस की तरह काम नहीं कर सकता। हमने राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को लिखा है और इसकी एक कॉपी गृह मंत्री राजनाथ सिंह को भेजी है। गवर्नर हिंसा को बढ़ावा दे रहे हैं।'

बुधवार को केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने दोनों नेताओं को फोन कर विवाद को खत्म करने के लिए कहा था। उनकी सलाह को ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस ने लगभग तुरंत ही दरकिनार कर दिया, और कहा कि वे गवर्नर के आवास राजभवन को 'बीजेपी के दफ्तर में तब्दील' नहीं होने दे सकते।

Mamata-banerjee_650x400_81499325514

बता दें कि मंगलवार को आरएसएस और वीएचपी के प्रतिनिधियों ने राजभवन जाकर गवर्नर से मुलाकात की थी। चटर्जी ने आरोप लगाया कि गवर्नर ने सीएम को उनके सामने बुलाकर उनका अपमान किया। क्या राज्य सरकार गवर्नर के इस्तीफे की मांग कर रही है, इस सवाल के जवाब में शिक्षा मंत्री ने कहा, 'अगर गवर्नर खेद नहीं जताते तो हमें मुश्किल फैसला लेने के लिए मजबूर होना पड़ेगा।'


कमेंट करें