बिज़नेस

एजुकेशन-हेल्थकेयर GST के दायरे से बाहर, पढ़िए किस सामान पर कितना लगेगा टैक्स

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
183
| मई 19 , 2017 , 17:07 IST | श्रीनगर

गुड्स एंड सर्विसेज टैक्‍स (जीएसटी) काउंसिल की मीटिंग के दूसरे दिन शुक्रवार को सर्विसेज पर टैक्स रेट तय किए गए। एजुकेशन और हेल्थकेयर को जीएसटी के दायरे से बाहर रखा गया है।

फाइनेंशियल सर्विसेज के लिए 18 फीसदी रेट को मंजूरी दी गई है। साफ है कि बैंकिंग, इन्श्योरेंस और दूसरी फाइनेंशियल सर्विसेज महंगी हो जाएंगी। सर्विस सेक्टर को मिलने वाली ज्यादातर छूट पहले की तरह जारी रहेंगी।

अधिकांश सर्विसेज 12 से 18 फीसदी कै टैक्स ब्रेकेट में आएंगी। हालांकि गोल्ड के लिए टैक्स रेट अभी तय नहीं किए जा सके हैं। 3 जून को काउंसिल की एक और मीटिंग बुलाई गई है।

Gst 1

किन सर्विसेज पर, कितना टैक्स

1. टेलिकॉम सर्विसेज पर टैक्स बढ़ा

टेलिकॉम सर्विसेज पर 12 फीसदी रेट तय किया गया

2. 18% के टैक्स स्लैब में ब्रांडेड गारमेंट

3. फाइनेंशियल सर्विसेस पर 3% टैक्स बढ़ा

अभी तक बैंकिंग, इन्श्योरेंस समेत फाइनेंशियल सर्विसेज पर 15 फीसदी सर्विस टैक्स था। GST में टैक्स रेट 18 फीसदी होने से ये सर्विसेज महंगी हो जाएगी

4. कॉमन सर्विसेस को लोअर स्लैब में रखने की राय

सर्विसेज टैक्‍सेशन के मामले में कुछ स्टेट टेलिकॉम, बैंकिंग जैसी कॉमन सर्विसेज को लोवर स्‍लैब में रखने के फेवर में है। इन पर अभी सर्विस टैक्स रेट 15% है। इन्हें 18% GST के स्लैब में रखा गया है। माना जा रहा है कि इन सर्विसेस को 18 फीसदी के स्‍लैब में रखने सेआम आदमी को झटका लगेगा।

5.सस्‍ते होटल जीएसटी के दायरे से बाहर

प्रति कमरा 1 हजार रुपए से कम किराये वाले होटल जीएसटी के दायरे से बाहर

1 हजार रुपए से 2500 रुपए कमरे वाले होटलों पर 12 फीसदी टैक्स

2500 रुपए से 5 हजार रुपए के कमरे वाले होटलों पर 18 फीसदी टैक्स

5 हजार रुपए से ज्‍यादा किराये वाले होटलों पर 24 फीसदी टैक्स रेट

फाइव स्‍टार होटलों पर 28 फीसदी रेट लागू होगा

नॉन AC और AC पर 1 फीसदी टैक्स

लिकर लाइसेंस वालों पर 18 सर्विस टैक्स लगेगा

50 लाख या उससे कम सालाना टर्नओवर वाले छोटे रेस्टोरेंट्स की सर्विसेस पर 5% टैक्स

6. ट्रांसपोर्ट सर्विसेज के लिए टैक्स रेट 5 फीसदी तय की गई है

7. सिनेमा हॉल पर 28 फीसदी टैक्स

8. गैंबलिंग पर लगेगा 28 फीसदी टैक्स

9. ऐप बेस्ड कैब सर्विसेज पर टैक्स

जीएसटी के तहत कैब एग्रीगेटर्स पर 5 फीसदी की दर से टैक्स लिया जाएगा

10. फल जूस और मांस पर 12 फीसदी कर

11. मछली पर पांच फीसदी कर लगेगा

12. मक्खन और चीज पर 12 फीसदी कर लगेगा

13. बेवरेज श्रेणी में कॉफी (इंस्टैंट नहीं), चाय और मुंगफली, कोयला, हैंडपंप आदि पर जीएसटी के अंतर्गत पांच फीसदी कर वसूला जाएगा

14. जिन चीजों पर 18 फीसदी कर लगाया गया है, उनमें हेलमेट, एलपीजी स्टोव, परमाणु रिएक्टर, घड़ियां, सैन्य हथियार, इलेक्ट्रॉनिक खिलौने और प्लास्टिक के बटन शामिल हैं

15. जिन सामानों पर कर की दर सबसे ज्यादा 28 फीसदी रखी गई है, उसमें बोतलबंद पेय, परफ्यूम, ऑफ्टर शेव लोशन, डियोड्रेंट, फर के कपड़े, रेजर ब्लेड, कार, रिवाल्वर और पिस्तौल शामिल हैं 

 


कमेंट करें