नेशनल

गुजरात के डिप्टी CM के बेटे पर नशे में प्लेन में चढ़ने का आरोप, स्टाफ ने प्लेन से उतारा

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
80
| मई 9 , 2017 , 10:05 IST | गांधीनगर

गुजरात के डिप्टी सीएम नितिन पटेल के बेटे को सोमवार को ग्रीस जाने वाली फ्लाइट में सवार नहीं होने दिया गया। स्टाफ का कहना था कि जयमीन पटेल ने ड्रिंक की थी। उन्हें होश नहीं था। उन्होंने फ्लाइट के स्टाफ के साथ बहस भी की थी।

उधर, नितिन पटेल ने कहा कि ऐसा कुछ नहीं हुआ। लोग अफवाहें फैला रहे हैं। बताया जा रहा है किजयमीन पटेल अपनी पत्नी और बेटी के साथ सोमवार सुबह ग्रीस जाने के लिए एयरपोर्ट पहुंचे थे। तीनों की टिकट कतर एयरलाइंस से बुक थी, लेकिन जयमीन की हालत को देख स्टाफ ने आपत्ति जताई।

Ahmadabad

नशे में धुत्त थे नितिन पटेल के बेटे

ऐसा बताया कि वे काफी नशे में थे। उन्हें इमिग्रेशन काउंटर और दूसरी जांच के लिए व्हीलचेयर पर ले जाना पड़ा। अफसरों का कहना था कि जयमीन को फ्लाइट में बैठने की मंजूरी नहीं दी गई। उसने एयरलाइंस कर्मचारियों के साथ बहस भी की।

Nitin patel

नितिन पटेल ने कहा- बदनाम करने की साजिश है

नितिन पटेल ने सोमवार शाम को गांधीनगर में मीडिया को बताया कि,

यह उनको और उनके परिवार को बदनाम करने की साजिश है। मेरा बेटा, उसकी पत्नी और पोती छुट्टियां मनाने जा रहे थे। उसकी तबीयत ठीक नहीं थी। जयमीन की पत्नी ने घर पर फोन किया और उसके बाद घर लौट आने को कहा। मेरे विरोधी इसे गलत तरीके से फैला रहे हैं

सिविल एविएशन मिनिस्ट्री ला रही है नए और सख्त नियम

फ्लाइट्स में स्टाफ और क्रू मेंबर्स के साथ हो रहे बुरे बर्ताव के बाद अब सिविल एविएशन मिनिस्ट्री नए नियम ला रही है। इसके तहत 2 साल या इससे ज्यादा वक्त तक बैन किया जा सकता है।

नया नियम क्या हैं

मिनिस्ट्री ने नो फ्लाई लिस्ट को तीन कैटेगरी में बांटा है। इसमें बुरा बर्ताव करने वाले पैसेंजर को 2 साल या इससे ज्यादा वक्त तक बैन करने का प्रोविजन है।

ये हैं नो फ्लाई लिस्ट की 3 कैटेगरी

पहली कैटेगरी

सिविल एविएशन सेक्रेटरी आर एन चौबे ने हाल ही में नो फ्लाई लिस्ट की घोषणा करते बताया था कि पहली कैटेगरी में धमकी भरे इशारे, एक्सप्रेशंस, वर्बल हैरेसमेंट जैसे शांति तोड़ने वाले बर्ताव को रखा गया है। इसमें दोषी पाए जाने पर पैसेंजर पर 3 महीने तक बैन लगाया जा सकता है।

दूसरी कैटेगरी

इसमें शारीरिक शोषण को रखा गया है। इसमें धक्का देना, पैर मारना, जकड़ लेना, सेक्शुअल हैरेसमेंट या गलत तरीके से छूना शामिल है। ऐसा करने पर पैसेंजर पर 6 महीने तक बैन लगाया जा सकता है।

तीसरी कैटेगरी

इस कैटेगरी में ऐसे बर्ताव को शामिल किया गया जिससे केबिन स्टाफ की जान को खतरा पैदा होता हो। इसमें 2 साल या इससे ज्यादा वक्त तक बैन लगाया जा सकता है।

Qatar1

 


कमेंट करें