नेशनल

केरल में बारिश का कहर, भूस्खलन से 4 की मौत, 10 लोग लापता

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1492
| जून 14 , 2018 , 19:23 IST

केरल के विभिन्न हिस्सों में पिछले कई दिनों से लगातार हो रही भारी बारिश से जन-जीवन अस्त व्यस्त हो गया है। कोझिकोड में लैंडस्लाइड के चलते अब तक 4 की मौत हो गई है। जबकि भू-स्खलन की वजह से अभी भी 5 लोगों को बचाया गया, और 10 लोग लापता है। भारी बारिश की वजह से रेस्क्यू ऑपरेशन में परेशानी आ रही है, अभी भी कई लैंडस्लाइड का खतरा बरकरार। कोझिकोड के रिहायशी इलाकों में गहराया संकट, पानी भरने से ट्रैफिक पर गंभीर असर।

बारिश के कारण राज्य के इडुक्की, कोझिकोड और कन्नूर जिलों में फसलों और संपत्ति को खासा नुकसान पहुंचा है। लगातार हो रही बारिश के कारण मालंगारा बांध के शटर खोलने की चेतावनी जारी की गई है। नदियों के निकटवर्ती इलाकों में रहने वाले लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया जा रहा है। न्यूज एजेंसी एएनआई द्वारा जारी किए गए कोझिकोड़ के एक वीडियो में तबाही का मंजर साफ देखा जा सकता है। यहां भारी बारिश से जगह-जगह भूस्खलन हो गया है, जिससे यातायात ठप है। सडक़ें बुरी तरह क्षतिग्रस्त हैं। राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन टीम और राज्य की टीम प्रभावित इलाकों में मौजूद है। केरल के मुख्यमंत्री पी विजयन ने मुख्य सचिव और जिला कलेक्टर को तत्काल राहत कार्रवाई के आदेश दिए हैं।

उधर, पूर्वोत्तर के अधिकांश हिस्सों में मॉनसून पहुंच गया है। असम, त्रिपुरा, मणिपुर, मिजोरम में भारी बारिश से अधिकांश इलाकों में बाढ़ जैसे हालात हैं। जानकारी के मुताबिक त्रिपुरा में कम से कम चार लोगों की मौत हो गई है। आपदा प्रबंधन ने बताया कि भूस्खलन, पेड़ गिरने या बाढ़ से उफनती नदी में मछली पकड़ने के दौरान चार लोग मारे गए हैं। कई गावों में बाढ़ का पानी घुसने से फसलें बरबाद हो गई हैं। नदियां खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं. मणिपुर में स्कूलों में छुट्टी घोषित कर दी गई है।

भारतीय मौसम विभाग (IMD) ने मेघालय और असम में तीन दिन के लिए हाई अलर्ट जारी कर दिया है। मौसम विभाग का कहना है कि दोनों राज्यों के कई जिलों में 16 जून तक भारी बारिश हो सकती है। वहीं, असम के करीमगंज जिले में सिंगला और लंगई नदियां खतरे के स्तर से ऊपर बह रही हैं। कई ट्रेनें रद्द कर दी गई हैं। 

मिरोजम में बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में फंसे 400 परिवारों के करीब 2000 लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया गया। लगातार हो रही बारिश से कई जगह भूस्खलन होने के चलते राजधानी आइजोल राष्ट्रीय राजमार्ग से कट गया है। आइजोल में दो मंजिला इमारत ढहने से आठ लोगों घायल हो गए। मौसम विभाग के मुताबिक अगले तीन दिन तक राज्य में भारी बारिश के आसार हैं। ऐसे में कई और जगहों पर भूस्खलन हो सकता है। रिपोर्टों की मानें तो मिजोरम की तुईपुई नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। आपदा प्रबंधन एवं पुनर्वास टीमें स्थानीय एनजीओ यंग मिजो एसोसिएशन के साथ मिलकर राहत और बचाव कार्य में जुट गई हैं।


कमेंट करें