खेल

अपने IPL के डेब्यू मैच में किया धमाल, बन गया दिल्ली का नया हीरो अभिषेक शर्मा

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
502
| मई 13 , 2018 , 08:54 IST

दिल्ली में खेले गए आईपीएल के 45वें मैच में दिल्ली और बेंगलुरु आपस में भिड़े जिसमें बेंगलुरु ने जीत हासिल कर ली। लेकिन भले ही बेंगलुरु ने जीत हासिल कर ली हो पर इस मैच में दिल्ली की तरफ से धुंआधार पारी खेलने वाला अभिषेक शर्मा नाम का एक नया स्टार क्रिकेटर मिल गया। सिर्फ 17 साल के इस क्रिकेटर ने मैच में विस्फोटक बैटिंग की और 19 बॉल पर 46 रन (3 चौके और 4 सिक्स) बना डाले, जिसकी बदौलत दिल्ली की टीम 181 रन बना सकी।

कौन है अभिषेक शर्मा-:

रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु टीम के खिलाफ शनिवार को अपना IPL डेब्यू करने वाले अभिषेक का जन्म 4 सितंबर 2000 को पंजाब के अमृतसर शहर में हुआ। एक क्रिकेटर के रूप में अभिषेक को बड़ी पहचान अंडर-19 डेब्यू के दौरान मिली।

Abhishek_jpg2_1526168858

जब उन्होंने विनू मांकड़ ट्रॉफी में पंजाब की टीम से खेलते हुए पहले मैच में सेन्चुरी लगाई। इसके पहले साल 2015-16 में हुई विजय मर्चेंट ट्रॉफी में वे 1200 रन बनाकर टूर्नामेंट के बेस्ट स्कोरर साबित हुए थे। ये देश में होने वाला अंडर-16 डोमेस्टिक क्रिकेट टूर्नामेंट है।

IPL के डेब्यू मैच में बना दिया रिकॉर्ड-:

अभिषेक ने शनिवार 12 मई को रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के खिलाफ IPL मैच खेलते हुए अपना पहला टी20 मैच खेला। 17 साल 250 दिन के अभिषेक ने इस मैच में उन्होंने 46 रन की इनिंग खेली। इसके साथ ही वे डेब्यू IPL मैच में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले सबसे कम उम्र के क्रिकेटर बन गए।

Abhishek_jpg7_1526168860

इससे पहले सबसे कम उम्र में डेब्यू IPL मैच में हाइएस्ट स्कोर का रिकॉर्ड संजू सैमसन के नाम था, जिन्होंने साल 2013 में हुए IPL में 27* रन बनाए थे। उस वक्त संजू की उम्र 18 साल 154 दिन थी।

55 लाख में दिल्ली के हुए थे अभिषेक-:

IPL के इस सीजन के लिए हुई प्लेयर्स ऑक्शन में दिल्ली डेयरडेविल्स की टीम ने अभिषेक शर्मा को 55 लाख रुपए में खरीदा। अभिषेक की बेस प्राइज 20 लाख रुपए थी। लेकिन इसके बाद बोली बढ़ते-बढ़ते 55 लाख रुपए तक पहुंच गई। उन्हें खरीदने के लिए दिल्ली और सनराइजर्स हैदराबाद के बीच बिडिंग वॉर भी दिखी थी।

युवराज- धोनी के फैन हैं अभिषेक शर्मा-:

अभिषेक ने एक इंटरव्यू में टीम इंडिया के दो खिलाड़ियों को अपना आदर्श बताया था। इनमें पहला नाम युवराज सिंह और दूसरा एमएस धोनी का था। उन्होंने कहा था कि वह धोनी की फिनिशिंग स्किल्स के कायल हैं।

कप्तानी का भी है अनुभव-:

साल 2016 में हुए U-16 एशिया कप में टीम इंडिया की कप्तानी अभिषेक ने ही की थी। टीम ने उन्हीं की कप्तानी में ये खिताब जीता था। हालांकि इसके कुछ महीनों बाद ही अंडर 19 वर्ल्ड कप की तैयारी को देखते हुए अभिषेक से टीम की कप्तानी लेकर पृथ्वी शॉ को कप्तान बना दिया गया।


कमेंट करें