नेशनल

केंद्र सरकार ने रोहिंग्याओं को बताया खतरा, घुसपैठ रोकने के लिए राज्यों को दिए निर्देश

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
317
| जून 4 , 2018 , 08:52 IST

भारत में रोहिंग्या मुसलमानों की घुसपैठ पर लगाम लगाने के लिए केंद्र ने सभी राज्य सरकारों से गैर कानूनी ढंग से राज्य में एंट्री करने वालों के खिलाफ कदम उठाने को कहा है। गृह मंत्रालय के जॉइंट सेक्रेटरी ने कहा, "सभी राज्य रोहिंग्या मुस्लिमों समेत गैर कानूनी तरीके से एंट्री लेने वाले लोगों के खिलाफ जरूरी कदम उठाए। इस मामले की समीक्षा करें और इसे रोकने के लिए जल्द से जल्द रिपोर्ट दें।"

गृह मंत्रालय ने कहा, "गैर कानूनी ढंग से देश में रह रहे लोग देश की सुरक्षा के लिए बड़ी चुनौती हो सकते हैं। इन लोगों के देश विरोधी गतिविधियों में शामिल होने की खबर भी कई बार मिल चुकी है।

167639-rohingya-muslim

बता दें कि म्यांमार देश में हिंसा का शिकार होने के बाद लाखों की संख्या में रोहिंग्या मुसलमान पलायन करते हुए बांग्लादेश, पाकिस्तान और भारत की ओर आए हैं।

गृह मंत्रालय का राज्य सरकारों को निर्देश:

-शरणार्थियों को चिन्हित जगहों पर रखा जाए। राज्य की पुलिस और सुरक्षा एजेंसी इनकी गतिविधियों पर कड़ी नजर रखे।

-देश में रहने वाले हर शरणार्थी की पहचान होनी चाहिए।  उनके नाम, जन्म की तारीख, जन्म स्थान, माता-पिता का नाम, किस देश से हैं सबकी जानकारी इकट्ठा होनी चाहिए।

- गैरकानूनी रूप से देश में घुसे शरणार्थी की बायोमैट्रिक पहचान लेनी चाहिए, जिससे ये लोग आगे अपनी पहचान न बदल सकें।

-इस बात का ध्यान रखना होगा कि इन लोगों का आधार कार्ड न बन पाए। जिससे भविष्य में ये भारतीय होने का दावा न कर सकें।

- इन लोगों से ली गई जानकारी को विदेश मंत्रालय के जरिए म्यांमार सरकार के साथ साझा किया जाए, जिससे इनकी नागरिकता का सही पता चल सके और इन्हें वापस म्यांमार भेजने में कोई परेशानी न हो।

 


कमेंट करें