नेशनल

ये वीडियो आजाद भारत के लिए एक शर्म है!

श्वेता बाजपेई, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
261
| जुलाई 24 , 2017 , 17:40 IST | नई दिल्ली

ओडिशा से एक दर्दनाक वीडियो सामने आया है जिससे एक बार फिर सरकार सवालों के कठघरे में आ सकती है । ओडिशा में एक गर्भवती महिला के घरवालों को उसे ऐसी अवस्था में 16 किलोमीटर तक बांस के ऊपर चादर में बांधकर अस्पताल पहुंचाने के लिए मजबूर होना पड़ा।

दरअसल महिला को पहले सरकारी एंबुलेंस एस्पताल ले जा रही थी, लेकिन रास्ते में बारिश की वजह से एक पेड़ गिर गया। ऐसी हालत में एंबुलेंस के ड्राइवर ने महिला को उसी हालत में बीच सड़क पर छोड़ दिया और गाड़ी लेकर चला गया। ओडिया में स्वास्थ्य विभाग की हालत इतनी खस्ता है कि गर्भवती महिला को एंबुलेंस नहीं मिलने के कारण उसके परिवार वालों ने बांस पर एक कपड़ा लगाकर उसे 16 किलोमीटर तक लटकाकर अस्पताल तक का सफर तय किया। वीडियो के वायरल होने के बाद प्रशासन ने इस मामले में संज्ञान लिया है।

ओडिशा के कालाहांडी जिले में लांझीगढ़ में महिला को पहले सरकारी एंबुलेंस से अस्‍पताल ले जाया जा रहा था लेकिन रास्ते में बारिश के कारण पेड़ गिरा हुआ था। इसके बाद एंबुलेंस चालक गर्भवती को बीच रास्‍ते में ही छोड़कर गाड़ी लेकर मौके से चला गया।

जब एंबुलेंस चालक महिला को आगे ले जाने के लिए तैयार नहीं हुआ तो उसके परिजन उसकी बिगड़ती हालत देखकर बांस की मदद से अस्पताल ले गए। वीडियो में दिखाई दे रहा है कि परिजनों ने गर्भवती को अस्‍पताल ले जाने के लिए बांस पर चादर बांधकर महिला को उसमें बैठाया काफी मशक्‍कत से वह उसे अस्‍पताल ले जाने में कामयाब हो पाए। अस्‍पताल पहुंचने पर महिला ने एक बच्ची को जन्म दिया। राहत वाली बात यह है कि मां और बच्ची दोनों स्वस्थ हैं। सीडीएमओ ने महिला और बच्‍ची दोनों के स्‍वस्‍थ होने की पुष्टि की है। जब इस तरह की लापरवाही के बारे में उनसे पूछा गया तो उन्‍होंने सफाई देते हुए कहा कि हमने सभी सुविधाओं का इंतजाम किया था, लेकिन दूरदराज के क्षेत्रों में कनेक्टिविटी खराब होने के कारण लोगों तक पहुंचने में असमर्थ हैं।

गौरतलब है कि ओडिशा में मानवता को शर्मशार करने वाला यह पहला मामला नही हैं, कुछ दिन पहले ही इसी गांव में एंबुलेस की सुविधा नहीं मिलने की वजह से एक गर्भवती महिला को उसके घरवालों ने स्ट्रेचर से अस्पताल पहुंचाया था, लेकिन बच्चे की गर्भ में ही मौत हो गई।

 


कमेंट करें