खेल

10 साल में पूरी तरह बदल जाएगा क्रिकेट! पढ़ें वो चार अहम बदलाव जो तय है

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
170
| मई 9 , 2017 , 18:56 IST | नयी दिल्ली

अपने शुरूआत से लेकर अबतक क्रिकेट ने कई बदलाव देखे हैं। कभी सिर्फ सादी जर्सी में खेले दाने वाले इस खेल को जब रंगीन जर्सी मिली तो इसका रोमांच और बढ़ गया। गेंद ने भी लाल से सफेद और सफेद से गुलाबी तक तक सफर तय कर लिया है। मैदान पर लगने वाले कैमरे भी अब आसमान में उड़ने लगे हैं। कभी सिर्फ अपने विवेक से फैसला लेने वाले अंपायर के पास आज इतनी तकनीकी साजो सामान हैं कि अंपायर किसी रोबोट से कम नहीं रह गए हैं।

तकनीक ने विकेट पर लगने वाले स्टंप को भी अपनी जद में ले लिया है। अब गेंद विकेट से टच होते ही स्टंप रंगीन लाईटों के साथ अपने हिलने की गवाही देने लगता है। बदलाव के इस दौर में कुछ क्रिकेट एक्सपर्ट का कहना है कि अगले दस साल में क्रिकेट और क्रिकेट के नियमों में कई अहम बदलाव होने वाले हैं। 

टॉस का नहीं रहेगा एडवांटेज

02sslde4

क्रिकेट एक्सपर्ट का कहना है कि मैच के दौरान टॉस जीतना काफी अहम होता है। कई बार तो मैच में हार जीत का फैसला टॉस के साथ ही तय हो जाता है। ऐसे में ये उम्मीद जताई जा रही है कि आने वाले दिनों में टॉस की महत्वपूर्णता को खत्म करने के लिए टॉस हारने वाली टीम को अपनी टीम में एक बदलाव करने का मौका दिया जाएगा। 

खिलाड़ियों की होगी ब्रेन ट्रेनिंग

Brain-Testing-April-1-2014-300x199

स्किल डेवलपमेंट के लिए ब्रेन ट्रेनिंग के नए तरीके डेवलप हो सकते हैं। ऐसे हेडसेट तैयार होंगे जो मैच से पहले खिलाड़ियों के तनाव को कम करने में मददगार होंगे। हेलमेट में ऐसी डिवाइस लगेगी जो बैट्समैन की मानसिक दशा को परख सकेगी।

 

टेस्ट और वनडे का दिन हुए पूरे

India-vs-England-1466848799

एक्सपर्ट का कहना है कि आने वाले दिनों में टेस्ट क्रिकेट का रोमांच कम होता जाएगा। ऐसे में कुछ काफी महत्वपूर्ण सीरीज को छोड़कर सभी टेस्ट मैच होने बंद हो जाएंगे। इसके साथ ही टी-20 के इस दौर में वडे क्रिकेट की उपयोगिता काफी कम हो जाएगी।

 

वर्चुअल प्रैक्टिस

Improvebat

एक्सपर्ट का कहना है कि अगले कुछ सालों में नेट प्रैक्टिस का चलन खत्म हो जाएगा। प्रैक्टिस में वर्चुअल फील्डर, स्कोरर और अंपायर होंगे। रियल मैच सिचुएशन के हिसाब से वर्चुअल स्थितियां बनाई जाएंगी और उसके हिसाब से खिलाड़ी की तैयारी होगी।


कमेंट करें