नेशनल

वसुंधरा सरकार ने गरीबों का उड़ाया मज़ाक, घरों पर लिखा 'मैं गरीब हूं'

अनुराग गुप्ता, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
135
| जून 22 , 2017 , 21:29 IST | दौसा

देश के गरीब परिवारों के जीवनयापन में मदद के लिए केंद्र और राज्य सरकार की कई योजनाएं है। इन योजनाओं के जरिए मदद पाने वाले लोगों को सभी के सामने आने के लिए सरकार ने एक ऐसा कदम उठाया है जो निंदनीय है। जिसके बाद से सरकार पर आरोप लग रहे है।

आरोप है कि सरकार की ओर से योजनाओं का लाभ उठा रहे लोगों के घर के बाहर दीवार पर स्लोगन लिखे जा रहे हैं। दरअसल, दीवार में लिखा गया है कि वे गरीब परिवार से हैं और सरकार की योजना के तहत राशन लेते हैं। बता दें कि यह घटना राजस्थान से दौसा जिले की है, जहां करीब 70 प्रतिशत परिवार गेहूं लेते है जिनके घर के बाहर सरकार ऐसे शब्द लिखवाए है।

दौसा में कई परिवार ऐसे भी है जिन्हें इस योजना का लाभ पूरी तरह से नहीं मिलता है मगर उनके घरों के बाहर ऐसा लिखा गया है कि वो गरीब है और इस योजना का लाभ लेते है। इस निंदनीय कदम पर दौसा जिला परिषद के सीईओ सुरेंद्र सिंह का कहना है कि यह मुहिम बीपीएल के अंतर्गत आने वाले परिवारों की पहचान के लिए चलाई गई है, हमें इसके लिए आदेश दिया गया हैं।

सरकार के इस कदम पर आपत्ति जताते हुए इसे गरीबों के लिए भद्दा मजाक बताया।


कमेंट करें