नेशनल

IMF ने घटाया भारत की विकास दर का अनुमान, बताई ये वजह

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
95
| अक्टूबर 10 , 2017 , 23:21 IST | नई दिल्ली

अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष ने साल 2017-18 में भारत की आर्थिक वृद्धि दर का अनुमान घटा दिया है। बता दें कि आईएमएफ ने भारत के जीडीपी ग्रोथ का अनुमान 0.5 फीसदी घटाकर 6.7 फीसदी कर दिया है। जबकि पहले यह 7.2 फीसदी था। हालांकि आईएमएफ का मानता है कि आने वाले वित्त वर्ष के दौरान विकास में सुधार होगा।

आईएमएफ ने अपनी रिपोर्ट पर कहा है कि भारत में विकास की रफ्तार धीमी हुई है। ये नोटबंदी और वित्त वर्ष के बीच में ऑल इंडिया लेवल पर जीएसटी लागू करने के असर को दर्शाता है। वहीं आईएमएफ ने भारत की विकास दर के अनुमान में कमी करने के साथ ही चीन की विकास दर में 0.1 फीसदी की बढ़ोतरी की है। इसके अनुसार 2017 में चीन की विकास दर 6.7 के जगह पर 6.8 फीसदी रहेगी।

इसके अतिरिक्त आईएमएफ ने साल 2018 में भारत की वृद्धि दर का अनुमान भी अपने पहले के अनुमान से 0.3 फीसदी कम कर 7.4 फीसदी कर दिया है। इससे पहले आईएमएफ ने जुलाई और अप्रैल में आर्थिक वृद्धि के अनुमान जारी किए थे। जिसमें भारत की वृद्धि दर 2016 में 7.1 प्रतिशत रही थी।

आईएमएफ ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि भारत में वृद्धि की गति धीमी हो गई है वो नोटबंदी और जुलाई से जीएसटी को लेकर अनिश्चिततता के चलते हुआ। हालांकि, रिपोर्ट के अनुसार 2018 में भारत दुनिया में सबसे तेज वृद्धि करने वाली उदीयमान अर्थव्यवस्था का दर्जा फिर हासिल कर सकता है। इसके अतिरिक्त रिपोर्ट के मुताबिक, श्रम कानूनों के साथ-साथ जमीन अधिग्रहण से जुड़े कानून को सरल और आसान बनाना कारोबारी माहौल को सुधारने के लिए जरूरी है।


कमेंट करें