नेशनल

भारत में और बढ़ा भ्रष्टाचार, ग्लोबल इंडेक्स में मिला 81 वां स्थान

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
271
| फरवरी 23 , 2018 , 09:17 IST

विश्व भ्रष्टाचार पर नजर रखने वाला अंतर्राष्ट्रीय गैर सरकारी संगठन ट्रांसपैरेंसी इंटरनेशनल ने एक लिस्ट जारी की है जिसमें भ्रष्ट देशों को क्रमवार रखा गया है।

इस लिस्ट से भारत मे चल रहे भ्रष्टाचार विरोधी कार्यक्रमों को झटका भी लगा है क्योंकि भारत को संस्थान की ताजा रिपोर्ट ग्लोबल करप्शन इंडेक्स-2017 में देश को 81वें स्थान पर रखा गया है जबिक पिछले साल की रिपोर्ट में भारत 79वें स्थान पर था। संगठन ट्रांसपैरेंसी इंटरनेशनल की इस नयी लिस्ट में भारत को चीन व भूटान से भी नीचे रखा गया है।

Capture

जबकि इस मानक पर उसका प्रदर्शन पाकिस्तान व बांग्लादेश जैसे पड़ोसी देशों से बेहतर रहा है। जहां तक भारत के पड़ोसी देशों की बात की जाए तो इस सूची में पाकिस्तान को 117वें, बांग्लादेश को 143वें, म्यांमार को 130वें और श्रीलंका को 91वें स्थान पर रखा गया है।

भारत के पड़ोसी देशों में भूटान का स्कोर सबसे अच्छा 67 अंक रहा है। वह सूची में 26वें स्थान पर है। चीन 41 अंक के साथ इस सूची में 77 वें स्थान पर है। यह इंडेक्स शून्य से 100 अंक के मानक पर सार्वजनिक जीवन में भ्रष्टाचार को लेकर विशेषज्ञों और कारोबारी लोगों की राय पर आधारित है।

.JPG

यह सूचकांक शून्य से 100 अंक के मानक पर सार्वजनिक जीवन में भ्रष्टाचार को लेकर विशेषज्ञों और कारोबारी लोगों की राय पर आधारित है।

संस्थान की ताजा रिपोर्ट ग्लोबल करप्शन इंडेक्स-2017 में देश को 81वें स्थान पर रखा गया है जबिक पिछले साल की रिपोर्ट में भारत 79वें स्थान पर था। सूचकांक तैयार करने के लिए देशों को विभिन्न मापदंडों पर 0 से 100 के बीच अंक दिए जाते हैं, सबसे कम अंक सबसे अधिक भ्रष्टाचार होने का संकेत माना जाता है।

इसे भी पढें-: पीएनबी घोटाला: गीतांजली समूह की 1,200 करोड़ रुपए की संपत्ति कुर्क

इस लिस्ट के मुताबिक न्यूजीलैंड सबसे कम भ्रष्ट देश है। न्यूजीलैंड को 89 अंकों के साथ लिस्ट में टॉप पर रखा गया है. वहीं 88 अंकों के साथ डेनमार्क दूसरे और 85 अंकों के साथ फिनलैंड तीसरे पायदान पर है। सबसे ज्यादा भ्रष्ट देश के मामले में सोमालिया को सिर्फ 9 अंक मिले हैं जो कि लिस्ट के सबसे आखिर में 180वें स्थान पर है।

यहां देखें रैकिंग-


.JPG

 


कमेंट करें