अभी-अभी

उद्योग ने पकड़ी रफ्तार, औद्योगिक उत्पादन दर 2.7 से बढ़कर 3.1 फीसदी हुई

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
781
| जून 12 , 2017 , 19:48 IST | नयी दिल्ली

उद्योग जगत और सरकार के लिए राहत की खबर आई है। अप्रैल में औद्योगिक उत्पादन दर के आंकड़े अनुमान से बेहतर रहे। अप्रैल में औद्योगिक उत्पादन दर बढ़कर 3.1 फीसदी रही, जबकि मार्च में आईआईपी ग्रोथ 2.7 फीसदी रही थी। आईआईपी के आकलन का बेस ईयर बदलने के बाद इंडस्ट्री की ग्रोथ में लगातार दूसरे महीने बढ़ोतरी देखने को मिली है।

हालांकि माइनिंग सेक्टर के लिए खबर अच्छी नहीं है। माइनिंग सेक्टर के उत्पादन दर में भारी गिरावट दर्ज देखने को मिली। अप्रैल में माइनिंग सेक्टर का ग्रोथ 9.7 फीसदी से घटकर 4.2 फीसदी रही। दरअसल कोल और आयरन ब्लॉक के आवंटन में हो रही देरी के चलते माइनिंग सेक्टर पर प्रतिकूल असर पड़ रहा है।

 

वहीं मैनुफैक्चरिंग सेक्टर में मार्च के मुकाबले अप्रैल में तेजी आई है। मैनुफैक्चरिंग सेक्टर का ग्रोथ अप्रैल में 1.2 प्रतिशत से 2.6 प्रतिशत पर पहुंच गया। लेकिन पिछले साल अप्रैल में मैनुफैक्चरिंग सेक्टर में उत्पादन दर 5.5 फीसदी रही थी।

अगर पावर सेक्टर की बात करें तो इसमें पिछले साल के मुकाबले भारी गिरावट दर्ज की गई है। पिछले साल अप्रैल में इलेक्ट्रिसिटी सेक्टर का ग्रोथ 14.4 फीसदी रही थी, जो इस साल अप्रैल में गिरकर 5.4 फीसदी पर आ गई है। वहीं मार्च के मुकाबले अप्रैल में इलेक्ट्रिसिटी सेक्टर का ग्रोथ 6.2 फीसदी से गिरकर 5.4 फीसदी पर आ गई है।

चालू वित्त वर्ष की चौथी तिमाही में जीडीपी में भारी गिरावट दर्ज की गई थी। अगर जीडीपी को बढ़ाना है तो सरकार को माइनिंग, पावर और मैनुफैक्चरिंग सेक्टर में बेहतर करना होगा।


कमेंट करें