खेल

टीम इंडिया को क्लीन स्वीप जीत के लिए मिला 239 रनों का लक्ष्य, भुवी ने झटके 5 विकेट

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
122
| सितंबर 3 , 2017 , 19:54 IST | कोलंबो

भुवनेश्वर कुमार (42-5) की अगुआई में भारतीय गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन के कारण श्रीलंका की टीम रविवार को सीरीज के पांचवें और आखिरी वनडे मैच में एक बार फिर बड़ा स्कोर नहीं कर पाई। आर. प्रेमदासा स्टेडियम में खेले जा रहे इस मैच में भारत ने श्रीलंका को 49.4 ओवरों में 238 रनों पर ही समेट दिया। लाहिरू थिरिमाने (67) और पूर्व कप्तान एंजेलो मैथ्यूज (55) के बीच चौथे विकेट के लिए हुई 122 रनों की साझेदारी के बाद लग रहा था कि टीम एक अच्छा स्कोर खड़ा करेगी, लेकिन इन दोनों के जाने के बाद श्रीलंका टीम के बाकी बचे पांच विकेट महज 44 रनों पर ही गिर गए।


टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी मेजबान टीम को एक बार फिर खराब शुरुआत मिली। उसने अपना पहला विकेट महज 14 रनों पर निरोशन डिकवेला (2) के रूप में खो दिया था। वह तीसरे ओवर में 14 के कुल स्कोर पर भुवनेश्वर को उन्हीं की गेंद पर कैच दे बैठे। भुवनेश्वर ने ही भारत को दूसरी सफलता दिलाई। दूसरे छोर पर शांत खड़े दिलशान मुनावीरा (4) को उन्होंने कप्तान विराट कोहली के हाथों कैच कराया। वह 40 के कुल स्कोर पर पवेलियन लौटे। 

दो मैचों के प्रतिबंध के बाद लौटे कप्तान उपुल थंरगा एक छोर पर अच्छी बल्लेबाजी कर रहे थे और उन्हीं के कारण टीम का स्कोरबोर्ड चल रहा था। वह जब अपने अर्धशतक से दो रन दूर थे तभी जसप्रीत बुमराह ने उन्हें विकेट के पीछे महेंद्र सिंह धौनी के हाथों कैच कराया। 63 के कुल स्कोर पर आउट होने वाले थरंगा ने 34 गेंदों में नौ चौकों की मदद से 49 रनों की तेज पारी खेली। श्रीलंकाई टीम यहां संकट में थी। तीन विकेट सौ से पहले गिर जाने के बाद उस पर एक बार फिर जल्दी ऑल आउट होने का खतरा मंडरा रहा था, लेकिन पूर्व कप्तान मैथ्यूज और थिरिमाने ने उसे बचा लिया। 

I

दोनों ने यहां से संभल कर खेलते हुए टीम को संकट से बाहर निकाला और चौथे विकेट के लिए शतकीय साझेदारी की। थिरिमाने अच्छी बल्लेबाजी कर रहे थे। भुवनेश्वर द्वारा फेंके गए 39वें ओवर की पांचवीं गेंद पर वह हल्के हाथ से थर्ड मैन की तरफ गेंद को धकेलना चाहते थे, लेकिन गेंद बल्ले से टकरा कर सीधे विकेटों पर जा लगी। उन्होंने अपनी पारी में 102 गेंदों का सामना किया और तीन चौकों सहित एक छक्का लगाया। थिरिमाने 185 के कुल स्कोर पर आउट हुए। 

श्रीलंकाई टीम अपने कुल स्कोर में नौ रनों का इजाफा ही कर पाई थी कि चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव ने मैथ्यूज को धौनी के हाथों कैच करा उनकी भी पारी का अंत किया। 98 गेंदों में 55 रन बनाने वाले मैथ्यूज ने चार चौके लगाए। दो सेट बल्लेबाजों के जाने के बाद श्रीलंका की टीम एक बार फिर सकंट में थी और भारतीय गेंदबाजों के पास एक बार फिर उसे कम स्कोर पर रोकने का मौका था। भारत ने इस मौके का बखूबी फायदा उठाया। बाकी के बल्लेबाज एक के बाद एक आउट होते रहे और श्रीलंका 238 के स्कोर से आगे नहीं जा पाई। भुवनेश्वर के पांच विकेट के अलावा बुमराह ने दो विकेट लिए। कुलदीप और युजवेंद्र चहल को एक-एक सफलता मिली। एक बल्लेबाज रन आउट हुआ।


कमेंट करें