नेशनल

सेना के पास महज 10 दिन की लड़ाई के लिए ही है गोला-बारूद: CAG रिपोर्ट

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
195
| जुलाई 22 , 2017 , 08:19 IST | नई दिल्ली

डोकलाम में चीन के साथ बढ़ते विवाद और पाकिस्तान के साथ लगातार बनते युद्ध जैसे हालात में भारत के लिए बुरी खबर है। हाल ही में कैग रिपोर्ट सामने आई है, जिसमें कहा गया है कि सेना के पास केवल 10 दिनों का ही ऑपरेशनल वॉर रिजर्व है। जबकि इसे कम से कम 40 दिनों का होना चाहिए। लेकिन सेना ने इसे घटाकर 20 दिनों का कर दिया था।

1_1475048600_1475068049

शुक्रवार को संसद में रखी रिपोर्ट में बताया गया है कि सेना को युद्ध के लिए कम से कम 40 दिन का वॉर रिजर्व होना चाहिए। हालांकि सेना ने इसे घटाकर 20 दिन का ‘ऑपरेशनल वॉर रिजर्व’ कर दिया है, लेकिन इसके बावजूद सेना के पास बहुत से ऐसे महत्वपूर्ण गोलाबारूद हैं जो सिर्फ 10 दिन के लिए हैं।

कैग की रिपोर्ट के मुताबिक, सितंबर 2016 में कुल 152 तरह के गोलाबारूद में केवल 31 ही 40 दिनों के लिए, जबकि 12 प्रकार के गोलाबारूद 30 से 40 दिनों के लिए, वहीं 26 प्रकार के गोलाबारूद 20 दिनों से थोड़ा ज्यादा वक्त के लिए पर्याप्त पाए गए।

Army_950_1499864717_618x347

कैग ने अपनी रिपोर्ट में खराब गोलाबारूद को लेकर भी सवाल खड़े किए हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि खराब गोलाबारूद का पता करने में भी काफी समय खराब किया जाता है। खराब गोलाबारूद के बारे में लिखा गया है कि इन्हें ठिकाने ना लगाने के चलते एम्युनेशन डिपो में आग लगने की घटनाएं सामने आ चुकी हैं।


कमेंट करें