नेशनल

कश्मीर के युवा पत्थरबाजों को देश घुमाएगी सेना, ताकि वो दूसरों को सुधार सकें

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
180
| जून 11 , 2017 , 20:28 IST | श्रीनगर

कश्मीर में पत्थरबाजी करने वाले युवाओं के लिए भारतीय सेना नया तरीका आजमाने जा रही है। दक्षिण कश्मीर में पत्थरबाजी करने वाले 20 युवाओं के एक ग्रुप को आर्मी देश के तमाम बड़े शहरों में घुमाने ले जाएगी। ये तरीका इसी इलाके में तैनात मेजर जनरल बीएस. राजू ने निकाला है। इस मिशन को ‘सद्भावना मिशन’ नाम दिया गया है।

Pel 1

पत्थरबाज युवकों के लिए एजुकेशनल टूर

मेजर जनरल राजू के मुताबिक,

इन युवाओं को देश घुमाने का मकसद ये है कि वो देखें कि उनके मुल्क ने कितनी तरक्की की है। हम इसे एजुकेशनल टूर के तौर पर ले रहे हैं, ताकि ये युवा गुमराह होने से बच सकें

कैसे आया यह आईडिया?

राजू के मुताबिक कश्मीर में पत्थरबाजी करने वाले कुछ युवाओं से उन्होंने बातचीत की तो उन्हें काफी कुछ नया मिला। सेना जब आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन करती है तो ये युवा पत्थरबाजी करके आतंकियों को भागने में मदद करने की कोशिश करते हैं।

मेजर राजू ने कहा कि,

आप आसानी से ये कह सकते हैं कि वो पत्थरबाजी सिर्फ इसलिए करते हैं क्योंकि वो यही देखते हुए बड़े हुए हैं। वो बचपन से कैदी की तरह जिंदगी गुजार रहे हैं। हैरानी की बात तो ये है कि पत्थरबाजी करने वाले कुछ युवा तो ये भी नहीं जानते कि वो ऐसा करते क्यों हैं

पत्थरबाज युवकों के भी सपने हैं

मेजर राजू खुद दो बच्चों के पिता हैं। पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम खान की बात दोहराते हुए वो कहते हैं- सपने देखिए। फिर उनको पूरा करने की कोशिश कीजिए। राजू जल्द ही कश्मीरी स्टूडेंट्स के लिए काउंसलिंग भी शुरू करने जा रहे हैं।

Pel 3

मेजर जनरल ने कहा कि,

मैंने पत्थरबाजी करने वाले कुछ युवाओं से बात की। और ये जाना कि उनके भी सपने हैं लेकिन, हालात खराब होने की वजह से उनके सपनों को कभी पंख नहीं मिल सके। इसलिए, सेना ऐसे 20 युवाओं के लिए सद्भावना स्कीम लेकर आई है

हर बड़ा शहर दिखाएंगे

आर्मी इस स्कीम में लोकल पुलिस की भी मदद ले रही है। 20 युवाओं को सिलेक्ट करने के बाद इन्हें सबसे पहले दिल्ली ले जाया जाएगा। यहां ये सरकार के लोगों से मिलेंगे। इसके बाद इन्हें मुंबई, जयपुर और बाकी बड़े शहरों की सैर कराई जाएगी।

Pel 4

 


कमेंट करें