नेशनल

अब दुश्मनों की खैर नहीं, भारतीय सेना को मिलेंगे 6 अमेरिकी अपाचे हेलीकॉप्टर

अनुराग गुप्ता, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
260
| अगस्त 18 , 2017 , 11:31 IST | नई दिल्ली

भारतीय सेना की ताकत को बढ़ाने के लिए अपाचे हेलीकॉप्टर खरीदे जाएंगे। बता दें कि रक्षा मंत्रालय ने 6 अपाचे हेलीकॉप्टर को खरीदने की मंजूरी दे दी है। इन छह लड़ाकू हेलीकॉप्टरों की खरीद पर कुल 4168 करोड़ का खर्च आएगा। भारत इस एएच-64ई अपाचे हेलीकॉप्टर के साथ अमेरिका से संबद्ध उपकरण, स्पेयर पार्ट्स, प्रशिक्षण एवं गोला-बारूद भी लेगा।

बता दें कि पहली बार भारतीय थलसेना को अटैक हेलीकॉप्टर मिलेगा। इन हेलिकॉप्टर्स को अमेरिकी कंपनी बोइंग बनाती है और इन्हें दुनिया के सबसे बेहतरीन अटैक हेलिकॉप्टर माना जाता है। इस हेलिकॉप्टर की एक बेहद खास बात है कि ये रात और खराब-से-खराब मौसम में भी बिना किसी रुकावट के अपने टारगेट को नेस्तनाबूद कर सकती है।

D245ae97a8c7d1cd7ccf3fd342576bf5

गुरुवार को डीएसी की मीटिंग में यह तय हो गया कि 6 अपाचे हेलीकॉप्टर खरीदे जाएंगे। इस मीटिंग में तमाम आला अफसरों के साथ रक्षा और वित्त मंत्री अरुण जेटली मौजूद रहे। दरअसल, सेना को पहली बार ये लड़ाकू हेलीकॉप्टर मिलेंगे।

अपाचे हेलिकॉप्टर की खूबियां:

- 30 एमएम गन जो किसी भी निशाने को तबाह कर सकता है

- 293 किमी प्रतिघंटे की रफ्तार से उड़ने की क्षमता।

- 5,165 किलोग्राम वाला अपाचे 18 मीटर लंबा और दो पायलटों की सीट।

- इसमें हेलिफायर और स्ट्रिंगर मिसाइलें लगाई गई हैं, जो राडार की पकड़ में आए दुश्मन के टारगेट को नेस्तनाबूद कर देगी।

1280px-YAH-64_parked_right-front_view

अपाचे को यूएस आर्मी के एडवांस्‍ड अटैक हेलीकॉप्‍टर प्रोग्राम के लिए बनाया गया था। इसने पहली उड़ान 30 सितंबर 1975 को भरी। अप्रैल 1986 में इसको यूएस आर्मी में शामिल किया गया। आज के वक्त में ये हेलीकॉप्टर यूएम आर्मी के अलावा इजरायल, मिस्र और नीदरलैंड की आर्मी के पास है और अब भारत भी इस लिस्ट में शामिल होने वाला है।


कमेंट करें