नेशनल

इंडिगो की बात बन जाएगी? एअर इंडिया की हिस्सेदारी खरीदने में दिखाई दिलचस्पी

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
120
| जून 29 , 2017 , 18:29 IST | नई दिल्ली

सरकार ने गुरुवार को कहा कि किफायती एयरलाइंस इंडिगो ने सरकारी एयरलाइंस एअर इंडिया की हिस्सेदारी खरीदने में दिलचस्पी दिखाई है। नागरिक विमानन मंत्री अशोक गणपति राजू ने बताया,

एअर इंडिया में इंडिगो ने दिलचस्पी दिखाई है और मंत्रालय से इस संबंध में आधिकारिक रूप से संपर्क किया है।

उन्होंने कहा,

अन्य एयरलाइनों ने भी एयर इंडिया को खरीदने में दिलचस्पी दिखाई है, लेकिन अभी तक उनका आधिकारिक प्रस्ताव प्राप्त नहीं हुआ है।

Newsflicks-mar2-5_650_022015025202

टाटा समूह द्वारा सरकारी एयरलाइंस को खरीदने के प्रस्ताव के बारे में मंत्री ने कहा,

उन्हें ऐसे किसी प्रस्ताव की जानकारी नहीं है।

राजू ने कहा कि केंद्रीय मंत्रिमंडल की मंजूरी प्राप्त समिति एअर इंडिया के विनिवेश के लिए विभिन्न विकल्पों पर विचार करेगी और एयरलाइन के वित्तीय स्वास्थ्य के लिए सबसे अच्छा निर्णय लेगी।

सरकारी क्षेत्र की एअर इंडिया देश की सबसे बड़ी घरेलू विमानन कंपनी है। एअर इंडिया 41 इंटरनेशनल और 72 घरेलू डेस्टिनेशंस के लिए उड़ान सेवाएं मुहैया कराती है। मार्केट के लिहाज से बात करें तो 17 फीसदी हिस्सेदारी के साथ यह देश की सबसे बड़ी विमानन कंपनी है। यही नहीं घरेलू पैसेंजर मार्केट में भी कंपनी की हिस्सेदारी 14.6% है। हालांकि निजी कंपनियों के तेजी से विस्तार के चलते एअर इंडिया की हिस्सेदारी में लगातार गिरावट आ रही है।

जानकारों के मुताबिक एअर इंडिया पर करीब 60,000 करोड़ रुपये का कर्ज है। इसमें 21,000 करोड़ रुपये विमान संबंधी लोन है जबकि करीब 8,000 करोड़ रुपये वर्किंग कैपिटल है। इसमें से 30,000 करोड़ रुपये के कर्ज को नीति आयोग ने राइट ऑफ करने के लिए केंद्र सरकार से सिफारिश की है।


कमेंट करें