नेशनल

इंटरनेशनल महिला हॉकी प्लेयर ज्योति गुप्ता की संदिग्ध हालत में मौत

आरती यादव, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
127
| अगस्त 5 , 2017 , 13:02 IST | हरियाणा

भारत की अंतरराष्ट्रीय स्तर की हॉकी खिलाड़ी ज्योती गुप्ता की संदिग्ध हालत में मौत। ज्योती का शव रोहतक में रेलवे लाइन पर पड़ा मिला, जिसके बाद से पूरे इलाके में सनसनी का माहौल है। परिजनों के अनुसार ज्योति बुधवार सुबह रोहतक स्थित महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय के लिए घर से निकली थी।

ज्योती गुप्ता ने आत्महत्या की है या किसी ने उसकी हत्या की है अभी तक इसका पता नही चल पाया है। हालाकि पुलिस इसे सुसाइड का मामला मान रही है। लेकिन ज्योति गुप्ता के परिजन इसे सुसाइड मानने के लिए तैयार नहीं हैं। बुधवार रात करीब दस बजे जीआरपी थाने को सूचना मिली कि रोहतक रेल लाइन पर फ्लाइओवर के निकट एक युवती का शव पड़ा है। सूचना के बाद एएसआइ उमेद सिंह और एएसआइ उर्मिला देवी मौके पर पहुंचे। शव के निकट एक हैंड बैग और मोबाइल पड़ा था। पुलिस ने मोबाइल के आधार पर शव की शिनाख्त का प्रयास किया। देर रात मोबाइल पर परिजनों की कॉल आने पर शव की शिनाख्त सोनीपत के विजयनगर वार्ड नंबर-25 निवासी 21 वर्षीया ज्योति गुप्ता पुत्री प्रमोद गुप्ता के रूप में हुई।

ज्योती के पिता प्रमोद गुप्ता ने बताया कि ज्योति बीए कर चुकी थी। बुधवार को उसने बताया था कि उसके सर्टिफिकेट में दर्ज नाम में गलती है, उसे ठीक कराने के लिए एमडीयू रोहतक जा रही है। करीब 11 बजे वह घर से निकली थी। शाम को साढ़े पांच बजे ज्योति की अपनी मां बबली से बात हुई थी। ज्योति ने बताया था कि उसकी बस रास्ते में खराब हो गई। एक घंटे में वह घर पहुंच जाएगी। देर शाम तक भी जब ज्योति घर नहीं पहुंची तो संपर्क करने का प्रयास किया, परंतु मोबाइल स्विच ऑफ मिला। रात में ज्योति के मोबाइल से जब पुलिस ने बात की तब परिजनों को घटना के बारे में जानकारी मिली। 

बता दें कि ज्योति नेशनल टीम में स्ट्राइकर थी। हिमाचल के शिलारु में तीन महीने तक चले नेशनल कोचिंग कैंप में भी शामिल हुई थी। ये कैंप जून में जोहानसबर्ग में वर्ल्ड हॉकी लीग सेमीफाइनल से पहले हुआ था। इस महीने भी उसे कैंप में जाना था। फिलहाल पुलिस मामले की जांच गंभीरता से कर रही है। पुलिस ने ज्योति के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। 


कमेंट करें