नेशनल

ईशा की सगाई के बाद मंदिर पहुंचे अंबानी-पीरामल परिवार (तस्वीरें)

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
1866
| मई 7 , 2018 , 16:07 IST

देश के सबसे अमीर परिवार की बेटी ईशा अंबानी अपनी सगाई के बाद होने वाले पति आनंद पीरामल के साथ मुंबई के इस्कॉन मंदिर पहुंची। बता दें इस मौके पर उनके पिता मुकेश अंबानी और मां नीता अंबानी भी मौजूद थे। मंदिर में आनंद के पिता अजय पीरामल भी मौजूद रहे। 

Rrr_6_1525680813__rend_4_3

आनंद और ईशा लंबे समय से एक-दूसरे को डेट कर रहे थे । अंबानी और पीरामल परिवार एक-दूसरे को 40 साल से जानते हैं।

Rrr_1525680653__rend_4_3

अब ये दोस्ती रिश्तेदारी में बदलने जा रही है। सोशल मीडिया पर दोनों की एक तस्वीर भी सामने आई है। आकाश अंबानी के बाद अब अंबानी परिवार में एक और भव्य शादी होने जा रही है । आनंद हार्वर्ड बिजनेस स्कूल से ग्रेजुएट हैं । फिलहाल वो पीरामल एंटरप्राइज के एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर हैं ।  बिजनेस स्कूल से पास होने के बाद उन्होंने दो स्टार्ट अप्स शुरू किए थे ।पहले एक हेल्थकेयर स्टार्ट अप शुरू किया, जिसका नाम पीरामल ई स्वास्थ्य था ।  दूसरा स्टार्ट अप रिएल इस्टेट का था, जिसका नाम पीरामल रिएलटी था । अब दोनों परिमल एंटरप्राइज का हिस्सा हैं । वहीं ईशा रिलायंस जियो और रिलायंस रिटेल के बोर्ड में शामिल हैं । 

Rrr_5_1525680826__rend_9_16

वहीं बात करें ईशा की तो वह रिलायंस जियो और रिलायंस रिटेल के बोर्ड में शामिल है। उनके पास येल यूनिवर्सिटी से साइकोलॉजी और साउथ एशियन स्टडीज में बैचलर डिग्री है। वो जून में ग्रेजुएट स्कूल ऑफ बिजनेस, स्टेनफोर्ड से बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन प्रोग्राम में मास्टर्स भी कर लेंगी। सोशल मिडिया में ईशा अंबानी के साथ आनंद पीरामल के रिश्ते की खबर तेजी से फैल रही है।


Rrr_8_1525680606__rend_4_3

मुकेश अंबानी ने दी थी आनंद पीरामल को बिजनेसमैन बनने की सलाह 

आनंद के परदादा सेठ पीरामल ने आजादी से पहले शेखावाटी क्षेत्र में शिक्षा की अलख जगाई थी। दरअसल, आनंद के दादा गोपीकृष्ण ने कस्बे में बीएड कॉलेज का निर्माण करवाया था, जिसमें पढ़ने के लिए दूर-दूर से आज भी छात्र-छात्राएं आते हैं। हाल ही में आनंद उस वक्त चर्चा में आए जब उन्होंने मुकेश अंबानी को उन्हें व्यवसायी बनने के लिए प्रेरणा देने के लिए शुक्रिया कहा था। मुंबई में एक कार्यक्रम में बात करते हुए आनंद ने कहा था कि मैंने उनसे पूछा था कि मुझे कंसल्टिंग में जाना चाहिए या बैंकिंग में उसके जवाब में उन्होंने कहा था कि कंसल्टेंट होने का मतलब है कि, जैसे आप क्रिकेट देख रहे हैं या कमेंट्री कर रहे है, जबकि व्यवसायी बनने का मतलब है कि आप क्रिकेट खेल रहे हैं। आप कंमेंट्री करके क्रिकेट खेलना नहीं सीख सकते। अगर आप कुछ करना चाहते हैं तो व्यवसायी बनें और अभी से इसकी शुरुआत करें।



Rrr_4_1525680836__rend_9_16

बता दें कि आनंद देश के जाने-माने बिजनेस मैन सेठ पीरामल के प्रपौत्र एवं बिजनसमैन अजय पीरामल के बेटे हैं। मूल रूप से राजस्थान के झुंझुनूं के बगड़ कस्बे के रहने वाला यह लड़का अब भारत के सबसे अमीर व्यक्ति की बेटी ईशा अंबानी से शादी करेगा। महाबलेश्वर मंदिर में जब दोनों ने एकदूजे से शादी का फैसला लिया तो परिवारजनों ने साथ में लंच किया। आनंद पीरामल ने हार्वर्ड बिजनेस स्कूल से ग्रेजुएशन किया है।

Rrr_2_1525680853__rend_4_3



कमेंट करें