इंटरनेशनल

डॉक्टरी की पढ़ाई करने वाली पाकिस्तानी लड़की बनी IS की आतंकी, पढ़ें पूरी कहानी

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
121
| अप्रैल 18 , 2017 , 14:51 IST | लाहौर

पाकिस्तान की एक मेडिकल छात्रा नौरीन लग़ारी पिछले दो महीने से लापता थी। पाकिस्तानी फौज का कहना है कि लापता लड़की सीरिया जाकर आईएस में शामिल हुई थी। पाकिस्तान के लाहौर में पुलिस कार्रवाई के दौरान नौरीन को हिरासत में लिया गया है।

नौरीन को ढूंढ़ लाने के लिए उसके घर वाले प्रदर्शन कर रहे थे। उस लड़की को ढूंढ़ने के बाद एक दिन पहले जब पाकिस्तानी फौज ने उसे लेकर खुलासा किया तो उसके घरवाले ही नहीं बल्कि पूरा पाकिस्तान सकते में आ गया। डॉक्टरी की पढ़ाई करने वाली लड़की ISIS से प्रभावित होकर आत्मघाती बम बन चुकी थी। उसकी साजिश ईस्टर पर धमाका करने की थी।

Naurin

(नौरीन लगारी)

पाकिस्तानी आर्मी के सामने नौरीन ने कबूला है कि उसका इरादा दहशतगर्द बनने का ही था, उसे किसी ने अगवा नहीं किय़ा था। वो अपने मर्जी से लाहौर से रवाना हुई थी।

उसने बताया कि,

मैं अपनी मर्जी से लौहार के लिए रवाना हुई थी। मेरा शुरू से ही दहदशतगर्द बनने का मंसूबा था। जैसे कि हमला करना, इंटेलिसेंज के लोगों को अगवा करना। उसके साथ अब्बू फौजी नाम का लड़का था, जो उसके साथ कार्रवाइयों में शामिल था। इनके लिए अप्रैल में ही तंजीम ने सामान मुहैया कराया था। इसमें 2 जैकेट और 4 हैंड ग्रेनेड और गोलियां थीं

दो महीने आईएस के सीरिया कैंप से लौटकर आई है नौरीन

उधर, पाकिस्तान के आतंकवादरोधी विभाग ने बीते शुक्रवार को लाहौर के पंजाब हाउसिंग सोसायटी में कार्रवाई की थी।

Is camp

विभाग की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि नौरीन लग़ारी तथाकथित इस्लामिक स्टेट में शामिल होकर दो महीने सीरिया में गुज़ार चुकी है। बयान के अनुसार 'नौरीन सीरिया में दो महीने बिताने के बाद छह दिन पहले पाकिस्तान लौटी है।

ईस्टर पर हमला करने का था इरादा

आतंकवादरोधी विभाग का आरोप है कि गिरफ़्तार की गई नौरीन लग़ारी लाहौर में ईसाई समुदाय के धार्मिक त्योहार ईस्टर के दौरान हमला करना चाहती थी गौरतलब है कि मेडिकल छात्रा नौरीन लग़ारी इसी साल दस फरवरी को लियाक़त यूनिवर्सिटी ऑफ़ मेडिकल साइंस से लापता हुई थी। नौरीन लग़ारी सिंध यूनिवर्सिटी के रसायन विभाग के प्रोफ़ेसर अब्दुल जब्बार लग़ारी की बेटी है।

Pak police

(फाइल फोटो)


कमेंट करें