नेशनल

ISRO ने सफलतापूर्वक लॉन्च किया नैविगेशन सैटेलाइट IRNSS-1I

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
717
| अप्रैल 12 , 2018 , 13:45 IST

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने आज अपना नैविगेशन सैटलाइट (IRNSS-1I) लॉन्च कर दिया है। इस सैटेलाइट को PSLV-C41 के जरिए तड़के 4:04 बजे आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा स्थित सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से लॉन्च किया गया। आईआरएनएसएस-1I को आईआरएनएसएस-1एच सैटलाइट की जगह पर छोड़ा गया, जिसकी लॉन्चिंग पिछले साल 31 अगस्त को असफल हो गई थी।

बता दें कि इसे बंगलुरु बेस्ड अल्फा डिजायन टेक्नोलॉजी ने इसरो के साथ मिलकर बनाया है।स्वदेशी तकनीक से निर्मित IRNSS-1I सैटेलाइट का वजन 1425 किलोग्राम है और इसकी लंबाई 1.58 मीटर है, जबकि ऊंचाई 1.5 मीटर और चौड़ाई 1.5 मीटर है। इसे 1420 करोड़ रुपये की लागत से तैयार किया गया है।

INRSS-1I  की खास बातें:

-IRNSS-1I से नेविगेशन के क्षेत्र में मदद मिलेगी, इसमें समुद्री नेविगेशन के साथ ही मैप और सैन्य क्षेत्र को भी मदद मिलेगी।

-इसका मुख्य उद्देश्य देश और उसकी सीमा से 1500 किलोमीटर की दूरी के हिस्से में इसकी उपयोगकर्त्ता को सही जानकारी देना है।

-यह सैटलाइट मैप तैयार करने, समय सही पता लगाने, नैविगेशन की जानकारी, समुद्री नैविगेशन के अलावा सैन्य क्षेत्र में भी सहायता करेगा।

-इसमें L5 और S-band नैविगेशन पेलोड के साथ रुबेडियम अटॉमिक क्लॉक्स होंगी। यह इसरो की आईआरएनएसएस परियोजना की 9वीं सैटलाइट होगी।

असफल रही था 29 मार्च की लॉन्चिंग:

इसरो ने 29 मार्च को संचार सैटेलाइट जीसैट-6ए को लॉन्च किया था, लेकिन 24 घंटे बाद ही उससे संपर्क टूट गया। इससे दोबारा संपर्क साधने के सभी प्रयास विफल रहे हैं।


कमेंट करें