नेशनल

फांसी की सजा पाए जाधव से मिलने की अपील फिर पाक ने ठुकराई, जासूसी का है आरोप

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
160
| अप्रैल 26 , 2017 , 20:53 IST | नई दिल्ली

पाकिस्तान ने कुलभूषण जाधव से मुलाकात के लिए भारत द्वारा की गई अपील को एक बार फिर ठुकरा दिया है। बता दें कि पाकिस्तान ने ऐसा 16वीं बार किया है। दरअसल, बुधवार को भारत के हाई कमिश्नर ने पाकिस्तान की फॉरेन सेक्रेटरी से मिलकर अपील की थी, जिससे पाकिस्तान ने खारिज कर दिया।

भारत ने पाकिस्तान आर्मी एक्ट के सेक्शन 133बी के खिलाफ अपील की थी। नेवी के पूर्व अफसर जाधव से पाकिस्तान भारत की मुलाकात होने नहीं दे रहा है। बता दें कि पाक मिलिट्री ने 10 अप्रैल को जाधव को मौत की सजा सुनाई थी। पाकिस्तान में जाधव पर भारत की खुफिया एजेंसी रॉ के लिए काम करने का आरोप लगाते हुए यह सजा दी है।

इस मामले में पाकिस्तान का कहना है कि केस बाइलेटरल एग्रीमेंट के तहत नहीं आता है। इस कारण से भारत को जाधव से मिलने की डिप्लोमैटिक एक्सेस नहीं दी जा सकती।

गौरतलब है कि जाधव को 3 मार्च 2016 को पाकिस्तान में गिरफ्तार किया गया था। पाकिस्तानी अखबार डॉन के मुताबिक पाकिस्तान की मिलिट्री कोर्ट में कुलभूषण जाधव पर जासूसी के आरोप में ट्रायल चल रहा था। पाकिस्तानी आर्मी के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर ने ट्वीट कर कुलभूषण जाधव को मौत की सजा सुनाने की जानकारी दी थी।

Jadhav 1

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक जाधव की मां ने अपने बेटे से मुलाकात के लिए एक पिटीशन पाकिस्तान सरकार को दी गई। विदेश मंत्रालय ने बताया कि जाधव की मां ने पिटीशन अपीलीय कोर्ट में दायर की और साथ ही अपने बेटे की रिहाई की मांग की।

कुलभूषण जाधव की फांसी की सज़ा पर भारत ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा था कि 'जाधव को कानून एवं न्याय के मूलभूत नियमों का पालन किए बगैर' फांसी की सजा सुनाई गई और यदि जाधव को फांसी दे दी गई है तो यह 'पूर्वनियोजित हत्या' के समान है। साथ ही पाकिस्तान के इस कदम से भारत के विदेश मंत्रालय ने भारत में पाक उच्चायुक्त अब्दुल बासित को तलब किया था।

Jadhav 4

कमेंट करें