अभी-अभी

जेटली ने यूएस में H-1B वीजा का मुद्दा उठाया, US कॉमर्स सेक्रेटरी बोले-अभी कोई फैसला नहीं

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
95
| अप्रैल 21 , 2017 , 12:19 IST | वाशिंगटन

केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने अमेरिका के कॉमर्स सेक्रेटरी विल्बुर रॉस से वॉशिंगटन में मुलाकात की है। इस दौरान जेटली ने उनके सामने H-1B वीजा मुद्दा सख्ती से उठाया और यूएस में ज्यादा कुशल भारतीय पेशेवरों के अहम रोल को सामने रखा।

इस पर रॉस ने कहा कि,

अमेरिका ने H-1B वीजा मुद्दे को रिव्यू करने की प्रॉसेस शुरू की है और इस पर अभी तक कोई फैसला नहीं लिया गया है।

डोनाल्ड ट्रम्प के राष्ट्रपति बनने के बाद अमेरिका-भारत के बीच कैबिनेट लेवल की यह पहली मीटिंग थी।

Jaitley 1

जेटली ने की दोनों देशों के हित की बात

न्यूज एजेंसी के मुताबिक जेटली ने भारतीय आईटी कंपनियों और पेशेवरों की चिंताओं को सामने रखते हुए रॉस से कहा कि,

अमेरिका और भारत के आर्थिक विकास में ज्यादा कुशल भारतीय पेशेवरों का अहम रोल रहा है और हम चाहते हैं कि वे यूएस में ऐसा करना जारी रखें, ये दोनों देशों के हित में होगा

बता दें कि जेटली की अगुआई में एक भारतीय डेलिगेशन गुरुवार को वॉशिंगटन पहुंचा है।

Trump 1

मेरिट बेस्ड इमिग्रेशन पॉलिसी चाहते हैं ट्रम्प

समझा जाता है कि विल्बुर रॉस ने कहा है कि रिव्यू प्रॉसेस का जो भी नतीजा निकले, पर ट्रम्प एडमिनिस्ट्रेशन का मकसद एक मेरिट बेस्ड इमिग्रेशन पॉलिसी बनाना है जिससे ज्यादा कुशल पेशेवरों को अहमियत मिले।

बता दें कि ट्रम्प ने H-1B वीजा मुद्दे को रिव्यू करने के लिए इस हफ्ते की शुरुआत में ही स्टेट, लेबर, होमलैंड सिक्युरिटी एंड जस्टिस डिपार्टमेंट्स के साथ एग्जीक्यूटिव ऑर्डर साइन किया था।

IMF-वर्ल्ड बैंक की मीटिंग में हिस्सा लेंगे जेटली

भारतीय डेलिगेशन इंटरनेशनल मॉनेट्री फंड (IMF) और वर्ल्ड बैंक की एनुअल मीटिंग में भी हिस्सा लेगा। जेटली यूएस, ऑस्ट्रेलिया, फ्रांस, इंडोनेशिया और स्वीडन के मंत्रियों के साथ बाइलैट्रल मीटिंग करेंगे। वे बांग्लादेश और श्रीलंका के फाइनेंस मिनिस्टर्स के साथ भी मुलाकात कर सकते हैं।

Visa

 


कमेंट करें