नेशनल

50 अमरनाथ यात्रियों की जान बचाने वाले सलीम खान को मिलेगा 3 लाख का ईनाम

श्वेता बाजपेई, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
196
| जुलाई 11 , 2017 , 19:42 IST | नई दिल्ली

जम्मू कश्मीर के अनंतनाग जिले में आतंकवादियों ने सोमवार रात एक बस पर हमला कर दिया जिसमें छह महिलाओं समेत गुजरात के सात अमरनाथ यात्रियों की मौत हो गई। लेकिन इस सभी के बीच हमले का शिकार हुई बस के ड्राइवर सलीम ने मिसाल कायम की। सलीम ने खुद की परवाह किये बिना बस में बैठे 50 यात्रियों के बारे में सोचा और बस नहीं रोकी । सलीम के इस जज्बे और बहादुरी के लिए जम्मू-कश्मीर सरकार ने सलीम शेख को 3 लाख रुपये का पुरस्कार देने की घोषणा की है।

बताया जा रहा है कि जब आतंकियों ने बस पर फायरिंग शुरू की तब ड्राइवर सलीम शेख ने महसूस कर लिया कि अगर उन्होंने बस रोकी तो ये आतंकी कत्ल-ए-आम मचा देंगे। इसी डर के कारण सलीम शेख ने किसी भी हाल में बस को ना रोकने का फैसला किया। ये भी मुमकिन था कि आतंकी बस के ड्राइवर को ही निशाना बना देते लेकिन इसके बावजूद भी वो रुका नहीं। बस को भागता देख आतंकियों ने पहिये में गोली भी मार दी। टायर पंचर होने के बाद भी सलीम ने बस के एक्सीलेटर पर से अपना पैर नहीं हटाया और सुरक्षित जगह पर पहुंचा कर ही दम लिया।

इसके बाद सलीम ने अपने घर में टेलीफ़ोन कर उन्हें अपने सलामत होने की खबर तो दी, साथ ही ये भी कहा कि वो हरगिज़ टेलीविजन ना चलाएं, जिससे घर के दूसरे लोगों और खासकर बीमार लोगों को टेंशन हो। पत्नी ने बताया कि वो बस सिर झुकाकर बस चलाते रहे और उन्होंने बस को आतंकियों की पहुंच से दूर कर दिया।

सलीम के इस जज्बे की पूरा देश तारीफ कर रहा है। सोशल मीडिया पर सलीम की बहादुरी के किस्से की खबर वायरल हो गई है।


कमेंट करें