नेशनल

24 की उम्र में शहीद हुए जसप्रीत की अंतिम विदाई में उमड़ा लोगों का सैलाब

कीर्ति सक्सेना, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
69
| जुलाई 19 , 2017 , 21:12 IST | जम्मू-कश्मीर

जम्मू-कश्मीर में राजौरी, पुंछ और कुपवाड़ा जिलों के एलओसी से सटे इलाकों पर पाकिस्तान ने मंगलवार को भारी फायरिंग की थी। इसकी चपेट में आकर राजौरी और नौगाम में दो जवान शहीद हो गए। शहीद होने वालों में मोगा जिले की धर्मकोट तहसील के गांव तलवंडी मलियां के 24 साल के जसप्रीत सिंह भी थे।

फायरिंग के दौरान जसप्रीत के सीने में दो गोलियां लगीं। जसप्रीत करीब चार साल पहले 8 जैक लाई में भर्ती हुए थे। वहीं, मोगा पहुंची उनकी बहन ने बताया कि जसप्रीत ने उनकी शादी कराई थी। बहन को अपने भाई की शहादत पर तो गर्व है, लेकिन वह रोते हुए बोली कि मेरा भाई तो चला गया अब पाकिस्तान को भी गोली मार दो।

मोगा के डीसी दिलराज सिंह ने बताया की मोगा के गांव तलवंडी मालिया का जवान जसप्रीत नौशेरा सेक्टर में शहीद हो गया। वहां ये लोग बच्चे को बचा रहे थे। दूसरी तरफ से गोलियां चल रही थी, जिसमें यह शहीद हो गया। 


कमेंट करें