अभी-अभी

राष्ट्रपति चुनाव में नीतीश-लालू की राहें अलग, JDU ने किया कोविंद को समर्थन का एलान

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
79
| जून 21 , 2017 , 21:43 IST | दिल्ली

बिहार में सत्तारूढ़ महागठबंधन में शामिल जनता दल (युनाइटेड) राष्ट्रपति पद के लिए राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद का समर्थन करेगा। यह निर्णय पार्टी की कोर समिति की पटना में बुधवार को हुई एक बैठक में लिया गया। बैठक के बाद बाहर निकले पार्टी के प्रधान महासचिव क़े सी़ त्यागी ने संवाददाताओं से कहा,

पार्टी ने राष्ट्रपति चुनाव में राजग उम्मीदवार और बिहार के पूर्व राज्यपाल कोविंद को समर्थन देने का फैसला लिया है।

उन्होंने कहा, "कोविंद का राज्यपाल का कार्यकाल बेहतरीन रहा है। उन्होंने निर्विवाद और शालीनता के साथ अपना कार्य पूरा किया है।" इससे पूर्व जद (यू) के अध्यक्ष और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में पार्टी की कोर समिति की बैठक हुई, जिसमें पूर्व अध्यक्ष शरद यादव, बिहार प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह, बिहार के मंत्री ललन सिंह सहित कई वरिष्ठ नेताओं ने हिस्सा लिया।

CM HOUSE ME CM NITISH KUMAR AND GOVERNOR RAMNATH KOVID KHARNA KA PRASAD KHATE HUYE

बिहार में सत्तारूढ़ महागठबंधन पर इस फैसले का किसी प्रकार का असर पड़ने की संभावना से इंकार करते हुए त्यागी ने कहा, "इस फैसले से महागठबंधन और सरकार पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा। जब महागठबंधन बना था, तब उस समय राष्ट्रपति चुनाव को लेकर किसी प्रकार का फैसला नहीं लिया गया था।" जद (यू) नेता ने यह भी कहा कि गुरुवार को राष्ट्रपति चुनाव को लेकर विपक्षी दलों की बैठक में अब जद (यू) शामिल नहीं होगा।

CM HOUSE ME CM NITISH KUMAR AND GOVERNOR RAMNATH KOVID KHARNA KA PRASAD KHATE HUYE2

इसके पूर्व जद (यू) के विधायक रत्नेश सदा ने कहा कि जद (यू) राष्ट्रपति चुनाव में रामनाथ कोविंद का समर्थन करेगा। उन्होंने दावा किया कि पार्टी के अध्यक्ष नीतीश कुमार ने भी अपनी मंशा पूर्व में ही जाहिर कर दी थी।  जद (यू) के सोनबरसा से विधायक सदा ने कहा, "बिहार का कोई राज्यपाल पहली बार राष्ट्रपति बनने जा रहा है, ऐसे में यह हमारे लिए गर्व की बात है और हम रामनाथ कोविंद के साथ हैं।" उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने रामनाथ कोविंद के राष्ट्रपति उम्मीदवार बनाए जाने पर अपनी खुशी व्यक्त की थी। कोविंद के उम्मीदवार बनाए जाने के बाद नीतीश ने राजभवन जाकर उनसे मुलाकात भी की थी।

गौरतलब है कि राष्ट्रपति चुनाव की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। मतदान 17 जुलाई को होना है, और परिणाम 20 जुलाई को घोषित होगा। वर्तमान राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का कार्यकाल 24 जुलाई को समाप्त होने जा रहा है।


कमेंट करें