अभी-अभी

जेएनयू में बिरयानी बनाने पर छात्रों पर लगा जुर्माना, ABVP ने कहा- बीफ बिरयानी थी!

अमितेष युवराज सिंह, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
91
| नवंबर 10 , 2017 , 14:08 IST | नयी दिल्ली

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) के एडमिन ब्लॉक के पास छात्रों द्वारा बिरयानी बनाने का मामला सामने आया है। जेएनयू ने नियमों का उल्लंघन मानते हुए यूनिवर्सिटी ने चार छात्रों पर जुर्माना लगाया है। छात्रों पर 6 हजार रुपये का जुर्माना लगाया गया है। साथ ही, चेतावनी दी गई है कि आगे ऐसी घटना ना हो। जेएनयू ने इसे गंभीर मामला बताया है। एबीवीपी का कहना है कि वह बीफ बिरयानी थी।

जेएनयू प्रशासन ने एक बार फिर कुछ स्टूडेंट्स पर फाइन लगाया है। इस बार 4 स्टूडेंट्स पर प्रोटेस्ट और बिरयानी पकाने के लिए नोटिस देते हुए फाइन लगाया गया है। इन स्टूडेंट्स में जेएनयू स्टूडेंट्स यूनियन की पूर्व जनरल सेक्रेटरी सतरूपा चक्रवर्ती भी हैं। 8 नवंबर को भेजे गए इस नोटिस में चीफ प्रॉक्टर कौशल कुमार की ओर से कहा गया है कि उन्हें 27 जून को जेएनयू वीसी, प्रशासन और प्रो. अतुल जौहरी के खिलाफ प्रोटेस्ट लीड करने और नारे लगाने का दोषी पाया गया है, जबकि कई बार सिक्योरिटी ने उनसे गुजारिश की। नोटिस में बताया गया है कि कोई भी धरना, प्रदर्शन जो एकैडमिक एक्टिविटी को डिस्टर्ब करे, वो अनुशासनहीनता है। साथ ही, एडमिन ब्लॉक की सीढ़ियों के पास बिरयानी पकाने के लिए भी उन्हें दोषी पाया गया है।

सतरूपा पर 10 हजार रुपये का फाइन लगाया गया है। सतरूपा का कहना है, यह जानबूझकर दिया गया नोटिस है, प्रशासन का यह सिलसिला जारी है। बार-बार ईमेल और लेटर देने के बावजूद भी जब वीसी हमने मिलने को तैयार नहीं हुए तो हम उस दिन स्टूडेंट्स की समस्याओं को लेकर उनसे बात करने पहुंचे। वीसी फिर भी नहीं मिले तो हमने प्रोटेस्ट किया और प्रोटेस्ट के दौरान इस तरह के खाना बनाना जेएनयू का कल्चर है। यह हमेशा होता आया है।

Jawaharlal-nehru-university

हमारा गोरिल्ला ढाबा भी इसी कल्चर का हिस्सा है, जहां चर्चाओं का दौर चलता है। सतरूपा का कहना है कि हॉस्टल अथॉरिटी से सवाल करने पर हैदराबाद यूनिवर्सिटी में 10 स्टूडेंट्स को सस्पेंड किया गया है और जेएनयू में यह नोटिस। यह स्टूडेंट्स पर हमला नहीं तो क्या है। सतरूपा के अलावा पीएचडी मनीष कुमार को सिर्फ बिरयानी बनाने के लिए 6 हजार रुपये का जुर्माना लगाया गया है। सभी स्टूडेंट्स को फाइन 10 दिन के अंदर भरने को कहा गया है।


कमेंट करें