इंटरनेशनल

159 घंटे ओवरटाइम करने और छुट्टी नहीं मिलने से हुई महिला पत्रकार की मौत

शाहनवाज़ ख़ान , ब्लॉगर | 0
114
| अक्टूबर 6 , 2017 , 12:58 IST | टोक्यो

लगातार काम करने और छुट्टी नहीं मिलने के कारण जापान में एक महिला पत्रकार की मौत हो गई है। महिला पत्रकार मिवा सादो जापान के नेशनल ब्रॉडकास्टर एनएचके में पॉलिटिकल रिपोर्टर थी। हालांकि पत्रकार की मौत 2013 में हुई थी, लेकिन उनकी संस्था ने इसी हफ्ते उनके केस को सार्वजनिक किया है। रिपोर्ट के मुताबिक जापान नेशनल हेल्थ सर्विस की ओर से मामले में की गई जांच में मिवा सादो की मौत की वजह ओवर टाइम सामने आई है। रिपोर्ट में कहा गया कि 31 वर्षीय मिवा की मौत कारोशी यानी अधिक काम करने के कारण हुई है।

 

मिवा अपने चैनल की ओर से टोक्यो मेट्रोपोलिटन गवर्नमेंट चुनाव कवर कर रही थी। इसके तीन दिन बाद ही दिल का दौरा पड़ने से उनकी मौत हो गई। उन्हें महीने में उन्हें सिर्फ दो दिन की ही छुट्टी दी गई थी। इतना ही नहीं पूरे महीने में उन्होंने करीब 159 घंटे ओवरटाइम भी किया और उससे पिछले महीने में 147 घंटे ओवरटाइम किया था।

Miwa sado

गौरतलब है कि इससे पहले भी 2015 में जापान में ओवरटाइम के कारण एडवरटाइजिंग एजेंसी में काम करने वाले एक शख्स की मौत हो गई थी। मामला सामने आने के बाद जापान में वर्क कल्चर को बदलने की मांग की गई थी। एक सर्वे के मुताबिक जापान में 20 प्रतिशत वर्कफोर्स पर कारोशी के चलते मौत का खतरा है। यहां ज्यादातर लोग 80 घंटे से अधिक तक का ओवरटाइम करते हैं। 'द सन' के मुताबिक जापान में हर साल काम के बोझ और तनाव के कारण करीब 2000 लोगों की मौत हो जाती है।

टैग्स: Japanese journalist

कमेंट करें

अभी अभी