मनोरंजन

बॉलीवुड की पहली लेडी सुपर स्टार थीं श्रीदेवी, जानें उनसे जुड़ी 10 खास बातें

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
567
| फरवरी 25 , 2018 , 15:22 IST

दिल का दौरा पड़ने की वजह से इस दुनिया को अलविदा कहने वाली श्रीदेवी हर दिल के बेहद करीब थीं। उनकी लवस्टोरी और खूबसूरत तस्वीरें अक्सर ही सुर्खियों में रहती थीं। श्रीदेवी की पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ से जुडी कई ऐसी बातें हैं, जो ज्यादातर लोग नहीं जानते। 

जब हुई शक्ति कपूर की पहली मुलाक़ात-

शक्ति कपूर और श्रीदेवी की पहली मुलाक़ात 1983 में ‘हिम्मतवाला’ के सेट पर हुई थी। इसे याद करते हुए वे कहते हैं, “राजमुंदरी में फिल्म की आउटडोर शूटिंग चल रही थी। श्रीदेवी मां और छोटी बहन के साथ सेट पर पहुंची थीं।

मैंने देखा कि वे हिंदी नहीं बोल पा रही थीं और अंग्रेजी में बात कर रही थीं। मैं हमेशा देखता था कि वे दूसरी एक्ट्रेसेस की तरह ब्रेक में गॉसिप नहीं करती थीं। वह फॉर्मली लोगों से बात करती थीं और अपनी लाइन पढऩे में व्यस्त हो जाती थीं। मैंने हमेशा उनका सम्मान करता आया हूं। मैं हमेशा अपनी चेयर उन्हें दे देता था।

हर फिल्म में श्रीदेवी को चाहते थे जितेन्द्र-

बकौल शक्ति कपूर, जितेन्द्र को ‘हिम्मतवाला' के दौरान श्रीदेवी का परफॉर्मेंस इतना अच्छा लगा कि उन्होंने डायरेक्टर के. राघवेंद्र राव से कहा कि वे अपनी सभी फिल्मों में उन्हें और श्रीदेवी को ही कास्ट करें। शायद यही वजह थी कि ‘हिम्मतवाला’ के बाद राव ने दोनों को ‘जानी दोस्त’ (1983), ‘जस्टिस चौधरी’ (1983), ‘तोहफा’ (1984), ‘सुहागन’ (1986), ‘धर्म अधिकारी’ (1986) और ‘दिल लगाके देखो’ (1988) जैसी फिल्मों में कास्ट किया।

1280x720-YAV

आइये जानतें हैं श्री देवी के जीवन की 10 मुख्य बातें-

1. श्रीदेवी का जन्म 13 अगस्त 1963 को तमिलनाडु में वकील पिता के यहां हुआ था। उनकी एक बहन और दो सौतेले भाई हैं। बहन का नाम- श्रीलता। भाईयों के नाम आनंद और सतीश हैं।

2. साल 1996 में उन्होंने बॉनी कपूर से शादी की। दोनों की दो बेटियां हैं- जाह्ववी और खुशी कपूर।

3. श्रीदेवी ने बॉलीवुड में कदम रखने से पहले तमिल, तेलुगु, मलयालम और कन्नड़ फिल्मों में काम किया था। उन्होंने अपने करियर की शुरुआत महज 4 साल की उम्र में बतौर चाइल्ड आर्टिस्ट की थी।

4. श्रीदेवी की पहली हिंदी फिल्म सोलवां सावन थी जो साल 1979 में आई थी। हालंकि उन्हें बॉलीवुड में पहचान फिल्म 1983 में आई फिल्म हिम्मतवाला से मिली। यह उस साल की ब्लॉकस्बस्टर फिल्म थी।

5. 1989 में आई फिल्म चालबाज में श्रीदेवी दोहरी भूमिका में नजर आई थीं जो कि 80 के दशक की आइकॉनिक मूवीज में से एक है। श्रीदेवी को फिल्म चालबाज के लिए पहले फिल्म फेयर सर्वश्रेठ अभिनेत्री के पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।

6. इसके बाद साल 1991 में श्रीदेवी यशराज की फिल्म लम्हे में दिखाई दी। फिल्म लम्हे के लिए श्रीदेवी को उनका दूसरा फिल्म फिल्मफेयर अवार्ड मिला था।

7. 1996 में निर्देशक बोनी कपूर से शादी के बाद श्रीदेवी ने फिल्मी दुनिया से अपनी दूरी बना ली थी। लेकिन इस दौरान वह कई टीवी शोज में नजर आईं।

8. श्रीदेवी ने साल 2012 में गौरी शिंदे की फिल्म इंग्लिश विंग्लिश से रूपहले परदे पर वापसी कीं। हिंदी सिनेमा से कई वर्षों तक दूर रहने के बाद भी फिल्म इंग्लिश विंग्लिश में श्रीदेवी ने बेहतरीन अभिनय से आलोचकों और दर्शकों का दिल फिर से जीत लिया था।

9. सोलवां सावन, सदमा, हिम्मतवाला, जाग उठा इंसान, अक्लमंद, इन्कलाब, तोहफा, सरफरोश, बलिदान, नया कदम, नगीना, घर संसार, मकसद, सुल्तान, आग और शोला, भगवान, आखरी रास्ता, जांबांज, वतन के रखवाले, जवाब हम देंगे, औलाद, नजराना, कर्मा, हिम्मत और मेहनत, मिस्टर इंडिया, निगाहें, जोशीले ,गैर कानूनी, चालबाज, खुदा गवाह, लम्हे, हीर रांझा, चांदनी, रूप की रानी चोरों का राजा, चंद्रमुखी, चांद का टुकड़ा, गुमराह, लाडला, आर्मी, जुदाई, हल्ला बोल, इंग्लिश विंग्लिश और मॉम आदि श्रीदेवी की यादगार फिल्में हैं।

10. श्रीदेवी को हिंदी फिल्मों की पहली फीमेल सुपरस्टार भी कहा जाता था। भारत सरकार ने साल 2013 में उन्हें पद्मश्री से नवाजा था।