नेशनल

चंडीगढ़ छेड़छाड़ केस में किरण खेर का बयान, लड़कों को भी रात में घर में रखा जाए

श्वेता बाजपेई, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
222
| अगस्त 9 , 2017 , 20:51 IST | नई दिल्ली

आईएएस अफसर की बेटी के साथ छेड़छाड़ को लेकर पूरे देश में गुस्सा है। इसके साथ ही महिला सुरक्षा को लेकर भी एक बार फिर से सवाल उठने लगे हैं। कहा जा रहा है कि जब आईएएस अधिकारी की बेटी के साथ ऐसा हो सकता है तो आम जनता का क्या हाल होता होगा। इस बीच बीजेपी सांसद किरन खेर ने बुधवार को कहा कि जब सुरक्षा की बात हो तो लड़के और लड़कियों दोनों पर समान नियम और प्रतिबंध लागू होने चाहिए।

संसद के बाहर खेर ने कहा, “अगर रात में ही सबसे ज्यादा परेशानियां होती हैं तो फिर हर एक लड़के को रात में घर में रखा जाना चाहिए। खतरा रात में ही क्यों होता है, दिन में क्यों नहीं? ऐसे में लड़कों को भी रात में बाहर नहीं जाने देना चाहिए।”

किरन खेर ने कहा कि लड़का और लड़की दोनों की बात सुनी जानी चाहिए और उसके बाद न्याय हो।

पुलिस ने इस मामले में विकास और उसके दोस्त आशीष को गिरफ्तार किया है।

क्या है पूरा मामला

विकास बराला और आशीष कुमार ने सीनियर आईएएस की बेटी की कार का पीछा किया था। उन्होंने लड़की के कार का दरवाज़ा भी खोलने की कोशिश की। लड़की के फोन करने पर पुलिस वहां पहुंची और दोनों लड़कों को गिरफ़्तार कर लिया। गिरफ्तारी के अगले ही दिन आशीष बराला को जमानत मिल गई। जांच में पाया गया कि आशीष बराला ने शराब पी रखी थी। पीड़िता ने इस पूरे वाकये को फेसबुक पर बयां किया था। हालांकि कांग्रेस समेत विपक्ष का आरोप है कि विकास को पुलिस पर दबाव डालकर बचाया गया है। विकास बराला, बीजेपी हरियाणा के अध्यक्ष और विधायक सुभाष बराला का बेटा है।


कमेंट करें