अभी-अभी

ऑपरेशन ब्लूस्टार की बरसी पर स्वर्ण मंदिर में गूंजे खालिस्तान जिंदाबाद के नारे

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
150
| जून 6 , 2017 , 13:28 IST | अमृतसर

पंजाब के अमृतसर में ऑपरेशन ब्लू स्टार की 33वीं बरसी के मौके पर खालिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाये गये। आपको बता दें कि आज ही के दिन वर्ष 1984 में पंजाब में आतंरिक आतंकवाद को बढ़ावा देने और खालिस्तान की मांग करने वाले हथियारबंद आतंकियों को अमृतसर के स्वर्ण मंदिर से खदेड़ने के लिए ऑफरेशन ब्लूस्टार चलाया गया था। खबरों के अनुसार, अमृतसर के स्वर्ण मंदिर में मंगलवार को खालिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाये गये।

Golden-temple-armitsar

ऑपरेशन ब्लूस्टार के 33 साल पूरे होने पर अमृतसर समेत पंजाब के कई भागों में सुरक्षा की सख्त व्यवस्था की गयी है। सीआरपीएफ, आईटीबीपी और आरएएफ सहित अर्धसैनिक बलों की करीब 15 कंपनियां राज्य के विभिन्न हिस्सों में तैनात की गयी हैं। दअरसल, कई कट्टरपंथी संगठनों ने स्वर्ण मंदिर में छिपे आतंकवादियों को बाहर निकालने के लिए की गयी सैन्य कार्रवाई की बरसी मनाने की घोषणा की थी।

खबरों के अनुसार, वर्ष 1995 में पंजाब के तत्कालीन मुख्यमंत्री बेअंत सिंह हत्याकांड के दोषी बलवंत सिंह राजोआना ने सभी राजनीतिक दलों और धार्मिक संगठनों से मंगलवार को ऑपरेशन ब्लूस्टार के 33 साल होने पर शांति और सौहार्द बनाए रखने का अनुरोध किया है। केंद्रीय कारागार से एक पत्र में राजोआना ने सभी सिख धार्मिक और राजनीतिक संगठनों से अपने मतभेद भुलाने और ऑपरेशन ब्लूस्टार के शहीदों को श्रद्धांजलि देने की अपील की।

राजोआना के हाथ से लिखे गये दो पन्ने का पत्र को उसकी बहन कमलदीप कौर ने मीडिया को जारी किया राजोआना ने सभी धड़ों से अकाल तख्त की पवित्रता बनाये रखने को कहा। उसने लिखा है कि हमें बस गुरबानी के जरिये सभी शहीदों को श्रद्धांजलि देनी चाहिए। नारेबाजी मत करें। बब्बर खालसा का अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी राजोआना 31 अगस्त 1995 को हुई पंजाब के तत्कालीन मुख्यमंत्री बेअंत सिंह की हत्या का मुख्य दोषी है।

-96454_6854


कमेंट करें