नेशनल

जाधव की फांसी रोके जाने से बौखलाया PAK, कहा- नहीं मानेंगे इंटरनेशनल कोर्ट का फैसला

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
122
| मई 18 , 2017 , 18:55 IST | इस्लामाबाद

कूलभूषण जाधव की फांसी पर हेग स्थित इंटरनेशनल कोर्ट की ओर से रोक लगाने के बाद पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने प्रतिक्रिया देते कहा है कि वो इंटरनेशनल कोर्ट के फैसले को मानने के लिए बाध्य नहीं है।

पाकिस्तान ने कहा है कि भारत को विश्व के सामने बेनकाब करेंगे। दूसरी ओर पाकिस्तान डिफेंस की ओर से एक ट्वीट में कहा गया है कि दुनिया की किसी भी अदालत के पास ये न्याय अधिकार नहीं है कि वह एक संप्रभु राष्ट्र की अदालत द्वारा दिए गए फैसले को पलट दे। पाकिस्तान पूरी ताकत से लड़ेगा।

भारत का जवाब- हर हाल में बचाया जाएगा जाधव को

उधर, भारत सरकार के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गोपाल बागले ने जाधव की फांसी पर इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस द्वारा रोक लगाए जाने के बाद एक प्रेस कांफ्रेस को संबोधित किया। 

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गोपाल बागले ने कहा कि हम आशा करते हैं कि पाकिस्तान इंटरनेशनल कोर्ट के फैसले का सम्मान करेगा। पाकिस्तान को कानूनन आइसीजे के फैसले को मानने के लिए बाध्य होना होगा। 

उन्होंने कहा कि हम किसी भी सूरत में जाधव को बचाने का प्रयास करेंगे। 

इंटरनेशनल कोर्ट का फैसला नहीं मानेगा पाकिस्तान

पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने अपने बयान में कहा कि दोनों देशों के बीच कांसुलर एक्सेस को लेकर समझौता है। पाकिस्तान ने भारत में मौजूद जाधव के सहायकों तक पहुंच की मांग की थी, जिस पर भारत ने अपनी सहमति नहीं दी।

पाकिस्तान का कहना है कि राष्ट्र हित के मामले में वह इंटरनेशनल कोर्ट का फैसला नहीं मानेगा। पड़ोसी देश का कहना है कि मार्च में इस संबंध में इंटरनेशनल कोर्ट में एक घोषणा पत्र सौंपा जा चुका है। इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस पहले भी इस तरह के कम से कम तीन फैसले दे चुका है।

ICJ


कमेंट करें