विज्ञान/टेक्नोलॉजी

भारत में जल्द लॉन्च होगा दुनिया का पहला हैकप्रूफ स्‍मार्टफोन

श्वेता बाजपेई, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
195
| अक्टूबर 7 , 2017 , 15:12 IST | नई दिल्ली

आपको बता दें कि कुछ ही महीनों के भीतर इंडियन यूजर्स के हाथों में एक ऐसा फोन आनेवाला है जो दुनिया का सबसे सेफ और हैकप्रूफ फोन है। सबसे बड़ी बात तो यह है कि इस फोन द्वारा की गई कॉल को टेलीकॉम कंपनी भी रिकॉर्ड नहीं कर सकती।

इंडियन यूजर्स को अगले साल के शरुआती महीनों में एक ऐसा फोन मिलने वाला है जिस पर बातचीत करने वाला दुनिया की सबसे सेफ कॉल कर सकता है। Blockchain स्मार्टफोन नाम का यह स्‍मार्टफोन दुनिया भर में पॉपुलर ऑनलाइन करेंसी बिटक्‍वाइन के बेस कंप्यूटर सिस्टम से जुडा़ है जिस पर दुनिया भर में पॉपुलर बिटकॉइन का पूरा कारोबार काम करता है। आपको बता दें कि ब्लॉकचेन स्मार्टफोन दुनिया का पहला क्रिप्टो कम्युनिकेटर स्मार्टफोन है, जिस पर बिटकॉइन की कई स्पेशल ऐप मौजूद हैं। जिनके द्वारा आप दुनिया भर में कहीं भी पैसों का लेनदेन सबसे सेफ तरीके से कर सकते हैं।



इस सबसे सेफ स्मार्टफोन में 64 जीबी की रोम, 4GB रैम के अलावा किसी स्टैंडर्ड स्मार्टफोन के सभी बेहतरीन फीचर मौजूद हैं, लेकिन इसकी कीमत थोड़ी ज्यादा होगी यानी कि करीब 80 हजार रुपए। इस फोन में बातचीत के साथ साथ पैसे के लेनदेन की गोपनीयता सबसे सेफ होगी। दुनिया का पहला BitVault स्मार्टफोन इसी महीने के अंत में लंदन में लांच होने जा रहा है और भारत में VVDN टेक्नोलॉजीस नाम की कंपनी इसे इंडियन यूजर्स के लिए बनाएगी। इस हाईटेक स्मार्टफोन की मैन्युफैक्चरिंग गुड़गांव में होगी और जल्दी ही आप लोग इस फोन को ऑनलाइन बुक कर पाएंगे। जिसकी डिलीवरी मार्च 2018 के आसपास शुरू होगी।

फोन की खूबियां-

1.आपको बता दें कि बिटवॉल्‍ट स्मार्टफोन में मौजूद किसी भी फाइल को मॉडिफाई नहीं किया जा सकता यही वजह है कि इस स्मार्टफोन को हैक करना लगभग इंपॉसिबल है।

2.इस फोन द्वारा की जाने वाली कॉल्स ब्लॉकचेन नेटवर्क पर मूव करती हैं इस वजह से आपका टेलीकॉम ऑपरेटर आपकी किसी भी कॉल या डाटा को ट्रैक रिकॉर्ड नहीं कर सकता। जब भी यूजर को इस फोन से कॉल करता है तो उसके लिए क्यूआर कोड जनरेट होता है जो कॉल खत्म होने के बाद अपने आप ही डिलीट हो जाता है।

3.इससे फोन पर आप कोई भी बैंकिंग लेनदेन भारतीय या इंटरनेशनल आसानी से कर सकते  हैं। जिसके लिए नॉर्मल बैंकिंग पासवर्ड के इस्तेमाल से पहले रिलेटेड एप्स का इस्तेमाल करने के लिए फिंगरप्रिंट और रेटिना स्कैन की जरूरत पड़ती है। इनके इस्तेमाल से ही आप अपने ट्रांजैक्शन को पूरी तरह सुरक्षित रख पाएंगे।

4.एक और खास बात इस फोन में बिटकॉइन के लेनदेन संबंधित सभी ऐप्स मौजूद हैं जिनके द्वारा कोई भी यूजर देश-विदेश में भी पैसों का लेनदेन कर सकता है। बिटकॉइन में भेजा गया पैसा बाद में लोकल करेंसी में चेंज करके यूजर को मिल जाता है।


कमेंट करें