नेशनल

पैंट्रीकार की वेज बिरयानी में मिली छिपकली, NWI की खबर पर रेलवे ने रद्द किया कॉन्ट्रैक्ट

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
498
| जुलाई 26 , 2017 , 12:24 IST | नई दिल्ली

22 जुलाई को सीएजी ने अपनी रिपोर्ट में कहा था कि रेलवे का खाना खाने लायक नहीं है और 5 दिन के अंदर ही रेलवे ने इसे साबित भी कर दिया है। मंगलवार को हावड़ा से दिल्ली जा रही पूर्वा एक्सप्रेस की पैंट्रीकार की बिरयानी में छिपकली मिलने से यह बात सिद्ध भी हो गयी। जिस युवक के खाने में छिपकली मिली वह पूर्वा एक्सप्रेस में सवार था। शख्स ने रेल मत्री सुरेश प्रभु को भी इस बारे में ट्वीट किया। खाने में छिपकली मिलने की खबर न्यूज वर्ल्ड इंडिया पर लिखने के तुरंत बाद रेल मंत्रालय की तरफ से ट्वीट कर हमें जानकारी दी गई की पूर्वा एक्सप्रेस के पैंट्रीकार का कॉन्ट्रैक्ट रद्द कर दिया गया है। 

जिस शख्स के खाने में छिपकली निकली उसने बता कि मोकामा में खाने का आर्डर दिया। जब पैकेट खोला तो खाने के अंदर छिपकली मिली। इसकी शिकायत उसने टीटीई और कैंटिन के मैनेजर से भी की। इतना ही नहीं उसने इसकी शिकायत ट्विटर पर रेल मंत्रालय तक कर दी। शख्स का कहना है कि खाने में छिपकली मिलने के बाद उसने खुद के लिए दवाई मांगी जो काफी देर बाद मिली।

बता दें संसद में 21 जुलाई को नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (CAG) ने रेलवे द्वारा परोसे जाने वाले खाने को लेकर चौंका देने वाली रिपोर्ट पेश की थी। सीएजी ने अपनी रिपोर्ट में यह खुलासा किया था कि रेलवे का खाना इंसानों के खाने लायक ही नहीं है। रिपोर्ट में कहा गया था कि दूषित खाद्य पदार्थों, रिसाइकिल किया हुआ खाना और डब्बा बंद व बोतलबंद सामान का इस्तेमाल एक्सपाइरी डेट के बाद भी किया जाता है।


कमेंट करें