इंटरनेशनल

12 हजार किमी का सफर तय कर लंदन से चीन पहुंची पहली डायरेक्ट ट्रेन

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 1
138
| अप्रैल 29 , 2017 , 17:25 IST | बीजिंग

ब्रिटेन और चीन को आपस में जोड़ने वाली गुड्स ट्रेन (मालगाड़ी) दुनिया का दूसरा सबसे लम्बा रूट तय कर शनिवार को यिवू सिटी पहुंची। दरअसल इस सफर को ट्रेड की दिशा में कामयाबी भरा कदम देखा जा रहा है। बता दें कि मालगाड़ी ने 20 दिन में 12 हजार किमी का सफर तय किया है।

Chinatrain1801a

इस मालगाड़ी ने लंदन से 10 अप्रैल को अपना सफर शुरू किया। जो कि फ्रांस, बेल्जियम, जर्मनी, बेलारूस, रूस और कजाख्स्तान से होते हुए अपने निश्चित स्थान चीन के झेझियांग प्रोविन्स की यिवु सिटी पहुंची है। इस सफर के जरिए दो देशों के व्यापार को खासा बढ़ावा मिलने वाला है। इस ट्रेन के जरिए बेबी मिल्क, मशीनरी, व्हिस्की और फॉर्मेसी से जुड़े सामान पहुंचाए गए।

दरअसल, साल 2013 में दुनिया के शीर्ष व्यापारिक देशों ने वन बेल्ट, वन रोड की स्ट्रैटजी लॉन्च की थी, यह मालगाड़ी उसी का हिस्सा है। यह रूट 2014 में खुले रिकॉर्ड होल्डिंग चीन-मैड्रिड लिंक से 1000 किमी छोटा है। ट्रेड की दिशा में देखे जा रहे इस ट्रेन पर चीन रेलवे कॉर्पोरेशन ने बताया कि ये सर्विस एयर ट्रांसपोर्ट से सस्ती और शिपिंग तेज है।

32971ec3ea8b4e49a81714d8beff27fb

विशेषज्ञों की माने तो इस वेंचर की कितनी कॉस्ट आई और इससे कितना फायदा होने वाला है इसका अनुमान अभी नहीं लगाया जा सकता है। हालांकि कुछ मायनों में ट्रेन ज्यादा सरल और सुविधाजनक है। लंदन से चीन के बीच में आने वाले स्टॉपेज के चलते सामान उठाना और पहुंचाना आसान है और मौसम का रेल ट्रांसपोर्ट पर ज्यादा असर नहीं होता है।


कमेंट करें