नेशनल

भगवान जगन्नाथ की 140वीं रथयात्रा शुरू, उमड़ा भक्तों का सैलाब, पीएम ने दी शुभकामनाएं

कीर्ति सक्सेना, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
61
| जून 25 , 2017 , 16:09 IST | भुवनेश्वर

ओडिशा के पूर्वी तट पर स्थित जगन्नाथ पुरी में भगवान जगन्नाथ की रथयात्रा का उत्सव पारंपरिक रीति के अनुसार धूमधाम से शुरु हो गया है। इस रथयात्रा को देखने के लिए भारी तादाद में भक्तगण आए। चारों तरफ जय जगन्नाथ का जयकारा लग रहा है।

Jagannath-rath-yatra_146771660240_650_070516043457

इसे गुंडिचा महोत्सव भी कहा जाता है। हर साल आषाढ़ शुक्ल द्वितीया के दिन रथ यात्रा शुरू होती है। आज के दिन भगवान जगन्नाथ, भाई बलभद्र और बहन सुभद्रा के साथ अपने जन्मस्थान गुंडिचा मंदिर जाते हैं। वहां नौ दिन तक रहते हैं। गुंडिचा मंदिर पुरी श्री जगन्नाथ मंदिर से करीब तीन किलोमीटर की दूरी पर है। गुंडिचा मंदिर को जगन्नाथ स्वामी का 'जन्मस्थल' भी कहा जाता है क्योंकि इस जगह पर दिव्य शिल्पकार विश्वकर्मा ने राजा इन्द्रध्युम्न की इच्छानुसार जगन्नाथ, बलदेव और सुभद्रा के विग्रहों को दारु ब्रम्ह से प्रकट किया था।

Puri-rath-yatra-1

प्रधानमंत्री मोदी ने इस अवसर पर 'मन की बात' के दौरान अपनी भावनाओ को व्यक्त करते हुए कहा कि,

जगन्नाथ यात्रा से देश का गरीब जुड़ा है।

इस अवसर पर मशहूर सैंड आर्टिस्ट सुदर्शन पटनायक ने भी अपनी तरीके से जगन्नाथ रथ यात्रा की शुभकामनाएं दी।

देशभर के श्रद्धालुओं के लिए भारतीय रेलवे ने 186 स्पेशल ट्रेनें चलाई हैं जिसमें से 34 ट्रेनें रविवार को पुरी तक के लिए चलेंगी। बाकी स्पेशल ट्रेनें 26 जून से 3 जुलाई तक के लिए चलाई जाएंगी। इसके लिए पुरी में बुकिंग काउंटर्स बनाए गए हैं और सुरक्षा बेहद कड़ी कर दी गई है।

मौसम विभाग ने रविवार को ओडिशा के तटीय इलाकों में भारी बारिश होने के अनुमान लगाए हैं इसलिए रथ यात्रा इससे प्रभावित हो सकती है। पुरी जिला प्रशासन का कहना है कि इस बार लगभग 7 लाख श्रद्धालु रथ यात्रा में शामिल होंगे।


कमेंट करें