मनोरंजन

Movie Review: लखनऊ सेंट्रल का यह सिंगर कैदी आपको पसंद आएगा

श्वेता बाजपेई, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
322
| सितंबर 15 , 2017 , 14:43 IST | नई दिल्ली

बॉलीवुड एक्टर फरहान अख्तर की मूवी 'लखनऊ सेंट्रल' 15 सितंबर को रिलीज हो गई। इस फिल्म में आपको फरहान की दमदार एक्टिंग तो देखने को मिलेगी, लेकिन इंटरवल के बाद मजबूत स्क्रिप्ट की कमी भी महसूस होगी। इंटरवल तक तो फिल्म अच्छी है लेकिन सेकेंड हाफ में फिल्म ड्रैग भी करती है जिसको दुरूस्त किया जा सकता था। फिल्म में आपको जबर्दस्त एक्टिंग के साथ एक म्यूजिकल जर्नी देखने को मिलेगी।

फिल्म की कहानी-

'लखनऊ सेंट्रल' जेल की पृष्ठभूमि पर आधारित फिल्म है, जो एक ऐसे नौजवान की कहानी है जिसका सपना भोजपुरी म्यूजिक डायरेक्टर बनने का है, लेकिन हालात उसे कहीं और पहुंचा देते हैं। किशन(फरहान अख्तर) दिल्ली पहुंचकर एक सफल सिंगर बनने का सपना देख रहा। लेकिन, अचानक कुछ ऐसा होता है कि उसपर मर्डर का इल्जाम लग जाता है। दरअसल, किशन किसी बड़ी साजिश का शिकार होता है और वह जेल पहुंच जाता है। फिर जेल में ही तैयार होती है बैंड बनाने के सपने की प्लानिंग और इस दौरान आपकी सांसें भी थमी रहेंगी। किशन के इस सपने में साथ देते हैं कुछ और जेल के साथी। फरहान के साथ दीपक डोबरियाल की केमिस्ट्री शानदार बन पड़ी है। इतनी मुश्किलों के बावजूद वह अपने सपने को कभी नहीं छोड़ता है।

एक्टिंग-

वहीं अगर एक्टिंग की बात करें तो फरहान अख्तर ने यूपी के लड़के का किरदार बखूबी निभाया है। उन्होंने अपने किरदार में जान डाल दी है। वहीं डायना पेंटी ने भी अच्छा काम किया है। रोनित रॉय भी नेगेटिव रोल में फिट बैठे हैं।

क्यों देखें फिल्म?

फिल्म में सिनेमेटोग्राफी, आर्टवर्क और प्लॉट बहुत अच्छा है। जेल के अंदर फिल्माए गए कई सीन्स आपको भावुक कर देंगे। कैदियों की जिंदगी कैसी होती है, इसे बारीकी दिखाया गया है।


कमेंट करें