नेशनल

बॉम्बे हाईकोर्ट में बोली महाराष्ट्र सरकार, सही था संजय दत्त की जल्दी रिहाई का फैसला

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
69
| जुलाई 17 , 2017 , 18:45 IST | मुंबई

बॉम्बे हाईकोर्ट में महाराष्ट्र सरकार ने 1993 बम ब्लास्ट केस में अभिनेता संजय दत्त की वक्त से पहले हुई रिहाई को जायज ठहराया है। राज्य सरकार ने बॉम्बे हाईकोर्ट में अभिनेता संजय दत्त की वक्त से पहले हुई रिहाई को लेकर एफीडेविट दाखिल किया है। हाईकोर्ट से सरकार से पूरे मामले पर दो हफ्तों के भीतर जवाब तलब किया था। 

12 जून को हुई सुनवाई में कोर्ट ने महाराष्ट्र सरकार से पूछा था कि जब संजय दत्त अपनी कैद के आधे समय तक पैरोल पर बाहर ही रहे ऐसे में उन्हें जल्दी रिहा कैसे किया जा सकता है। कोर्ट ने ये भी पूछा था कि सरकार को अपने इस फैसले पर सफाई देनी होगी कि संजय को आठ महीने पहले जेल से कैसे रिहा किया गया जबकि वो ज्यादातर समय पैरोल पर रहे थे।
 1374589550_Sanjay Dutt-01

कोर्ट ने ये आदेश पुणे के रहने वाले प्रदीप भालेकर की जनहित याचिका पर सुनवाई के दौरान दिए। प्रदीप ने उनकी जल्दी रिहाई पर तो सवाल किए ही, साथ में उन्हें लगातार पैरोल मिलने पर भी निशाना साधा है। इस पर कोर्ट ने कहा, संजय दत्त ज्यादातर समय पैरोल पर थे ऐसे में जेल आधिकारियों ने कैसे फैसला कर लिया कि उनका व्यवहार अच्छा था।

बता दें कि संजय दत्त को 1993 के सीरियल ब्लास्ट केस में पांच साल कैद की सजा सुनाई गई थी। संजय दत्त ने 2013 में सरेंडर कर दिया था।

उनके अच्छे व्यवहार को देखते हुए पुणे की यरवदा जेल से तय समय से आठ महीने पहले ही फरवरी 2016 में जमानत दे दी गई थी।


कमेंट करें