नेशनल

नोटबंदी के एक साल पर ममता ने लगाई ब्लैक डीपी, कांग्रेस ने भी किया विरोध

श्वेता बाजपेई, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
34
| नवंबर 8 , 2017 , 12:33 IST | नई दिल्ली

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मंगलवार को नोटबंदी को लेकर केंद्र सरकार की कड़ी निंदा की। नोटबंदी के विरोध में ममता बनर्जी ने ट्विटर अकाउंट की अपनी डिस्प्ले तस्वीर काली कर दी है। आज नोटबंदी की पहली वर्षगांठ है।

ममता ने जीएसटी को ‘लोगों का उत्पीड़न करने और अर्थव्यवस्था को बर्बाद करने के लिए ग्रेट सेल्फिश टैक्स (महास्वार्थी टैक्स)’ बताया था।

 

ममता ने कहा कि नोटबंदी एक त्रासदी थी। उन्होंने सोशल मीडिया यूजर्स को 8 नवंबर को नोटबंदी के खिलाफ विरोध के रूप में अपनी प्रोफाइल पिक्चर को बदलकर काला करने की अपील की साथ ही अपने पार्टी नेताओं को नोटबंदी के खिलाफ इसकी पहली वर्षगांठ पर मंगलवार को 'ब्लैक डे' मनाने का निर्देश दिया।

वहीं पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा कि गुजरात के सूरत शहर में पिछले एक साल में 21 हजार लोगों की नौकरी गई है।

वहीँ नोटबंदी को लेकर कांग्रेस के नेताओं ने ट्वीट किए है और कुछ आंकड़े साझा किए है। इसमें बताया कि नोटबंदी के चलते 15 लाख लोगों की नौकरियां छूट गई हैं और 96 लाख से ज्‍यादा लोग बेरोजगार हो गए हैं।

कांग्रेस नेता शाशि थरूर ने नोटबंदी के एक साल पूरे होने पर ट्वीटर की डीपी को ब्‍लैक किया है।

 

दिल्‍ली कांग्रेस के प्रभारी अजय मकान ने कहा है कि नोटबंदी ने फैलाई गहन बेरोजगारी।

 

राहुल गांधी ने एक ट्वीट में नोटबंदी को त्रासदी बताया तो एक ट्वीट में एक साल एक बुजुर्ग की फोटो शेयर करते हुए लिखा, एक आंसू भी हुकूमत के लिए खतरा है। तुमने देखा नहीं आंखों का समुंदर होना।

 

कांग्रेस ने एक लेख साझा किया है जिसमें बताया गया है नोटबंदी को लेकर सरकार ने क्‍या-क्‍या झूठ कहा है।

 

वहीं कांग्रेस ने एक वीडियो शेयर किया है और उसमें दिखाया है कि नोटबंदी गरीबों के लिये थी? जिन लोगों की जान चली गयी उनके परिवार की पीड़ा कुछ और ही कह रही है।

 


कमेंट करें