राजनीति

MCD ELECTION : 270 सीटों पर वोटिंग खत्म, पड़े कुल 54 फीसदी वोट

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
158
| अप्रैल 23 , 2017 , 18:52 IST | नई दिल्ली

दिल्ली नगर निगम चुनाव के लिए 270 सीटों पर मतदान संपन्न हुआ। तीनों MCD के लिए वोटिंग शाम पांच बजे वोटिंग खत्म हो गई। शाम साढें पांच बजे तक तीनों एमसीडी के लिए कुल 54 फीसदी मतदान पड़े। शाम पांच बजे के बाद भी जो वोटर मतदान केद्र के अंदर थे उन्हें साढ़े पांच बजे तक वोट गिराने दिया गया। 

बता दें कि राज्य चुनाव आयोग ने तीनों एमसीडी के लिए कुल 13141 पोलिंग स्टेशन निर्धारित किए थे, जिसमें 799 संवेदनशील और 208 अतिसंवेदनशील मतदान केंद्र थे।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अपने परिवार के साथ एमसीडी चुनाव के लिए डाला वोट। दिल्ली एमसीडी का किंग कौन होगा इसका फैसला 26 अप्रैल को होगा।राजनीतिक जानकारों की मानें तो बीजेपी और आम आदमी पार्टी के बीच कांटे की टक्कर है। 

 

कांग्रेस के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष अजय माकन ने भी अपने मताधिकार का  इस्तेमाल किया। 

 

केंद्रीय मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने अपने परिवार के साथ दिल्ली के कृष्णा नगर में वोट डाला।

 

एमसीडी चुनावों में पहली बार नोटा का इस्तेमाल हो रहा है। ये पहला मौका है जब किसी नगर निगम चुनाव में नोटा का इस्तेमाल किया जा रहा है। माना जा रहा है कि इससे राजनीतिक दलों को भी आम जनता की पसंद और नापसंदगी की जानकारी मिल जाएगी।

2 सीटों पर उम्मीदवारों की मृत्यु हो जाने के कारण वोटिंग नहीं हुई। सराय पीपल थला और मौजपुर वार्ड में प्रत्याशियों के निधन से वोटिंग टल गई है। इन दोनों ही वार्ड से उम्मीदवारों की मृत्यु हो जाने कि वजह से फिल्हाल मतदान टाल दिया गया है। बाद में इन दोनों वार्ड में वोटिंग होगी।

 

दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया भी वोट डालने पहुंचे। पांडव नगर बूथ पर वोट डालने के बाद सिसोदिया ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि ऐसे दिल्ली वाले जो मच्छर और डेंगू से परेशान हैं वो जरूर वोट डालने जाएं।

 

दिल्‍ली के एलजी अनिल बैजल आपनी पत्नी के साथ ग्रेटर कैलाश के पोलिंग बूथ पर वोट डालने पहुंचे।

 

हाल ही में कांग्रेस छोड़ बीजेपी में शामिल हुए अरविंदर सिंह लवली अपनी पत्नी के साथ जब आजाद नगर में वोट डालने पहुंचे तो ईबीएम खराब मिला, जिस वजह से उन्हें बिना वोट डाले ही वापस आना पड़ा। 


कमेंट करें