राजनीति

मायावती ने यूपी के लिए बनाया मेगा प्लान, कहा-BJP को चैन से बैठने नहीं दूंगी

श्वेता बाजपेई, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
335
| जुलाई 23 , 2017 , 17:24 IST | नई दिल्ली

राज्यसभा से इस्तीफे के बाद मायावती ने आगे की रणनीति बनाने का काम शुरू कर दिया है। इसी सिलसिले में मायावती ने रविवार को दिल्ली में पार्टी के वरिष्ठ नेताओं की बैठक बुलाई।

इस बैठक के बाद मायावती ने बताया कि 18 सितंबर 2017 से 18 जून 2018 तक यूपी दौरे का कार्यक्रम बनाया गया है। अब वो हर महीने की 18 तारीख को दो मंडलों में एक रैली करेंगी। इसी दिन उस इलाके के अहम नेता/कार्यकर्ताओं से अलग से मुलाकात करेंगी।

पहली रैली मेरठ-सहारनपुर में होगी। जून 2018 के बाद के कार्यक्रमों की बाद में घोषणा होगी। हर विधानसभा के हिसाब से मायावती का कार्यक्रम बनेगा। मायावती ने कहा कि 18 तारीख इसलिए चुनी क्योंकि 18 जुलाई को मैंने राज्यसभा से इस्तीफा दिया था। कार्यकर्ता वो दिन भूलना नहीं चाहते हैं। बीजेपी का पर्दाफाश करूंगी। बीजेपी जातिवादी, पूंजीवादी और दलित विरोधी पार्टी है। बीजेपी को चैन से बैठने नहीं दूंगी। यूपी के अलावा देशभर में बीजेपी के तानाशाही रवैये और दलित विरोधी नीति का देशभर में पर्दाफाश करूंगी। देशभर में बीजेपी को चैन से नहीं बैठने दूंगी।

बीजेपी पर दलित विरोधी होने का आरोप लगाते हुए मायावती ने कहा, ”देश की जनता बीजेपी से त्रस्त है। जनता को इससे बचाने के लिए हमने ये कार्यक्रम शुरू किया है। यूपी से बाहर दूसरे राज्यों में धरना कार्यक्रम चल रहा है। मायावती ने आरोप लगाया कि बीजेपी की सरकार दलित, अल्पसंख्यकों और छोटे व्यापारियों के खिलाफ है।

मायावती ने बताई अपने इस्तीफे की वजह

दिल्ली में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान मायावती के साथ सतीश चन्द्र मिश्र भी मौजूद थे। इस दौरान उन्होंने आरोप लगाया कि केंद्र में 'जातिवादी और संकीर्ण विचारधारा वाली' सरकार है। उन्होंने कहा, 'सहारनपुर में बीजेपी द्वारा कराए कांड के विरोध में जब मैंने बोला तो सत्ता पक्ष ने मेरा विरोध करना शुरू कर दिया। वो मेरी आवाज दबाना चाहते थे। इस व्यवहार की वजह से मुझे इस्तीफा देना पड़ा।'

 


कमेंट करें