इंटरनेशनल

दिवालिया होने के कारण बंद हुई ब्रिटेन की मोनार्क एयलाइंस, फंसे हैं एक लाख पर्यटक

श्वेता बाजपेई, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
112
| अक्टूबर 3 , 2017 , 11:24 IST | ब्रिटेन

यूनाइटेड किंगडम की पांचवी सबसे बड़ी मोनार्क एयरलाइन सोमवार को बंद हो गई। इसके पीछे एयरलाइन के दिवालिया होने की वजह बताई जा रही है। इसके कारण लगभग 3,00,000 बुकिंग कैंसिल हो गईं। ब्रिटेन की सरकार ने सिविल एविएशन ऑथोरिटी को विदेशों में मौजूद लगभग 1 लाख 10 हजार यात्रियों को वापस लाने के इंतजाम करने को कहा है। इसके लिए 30 से ज्यादा विमानों की व्यवस्था की जा रही है।

मोनार्क के चीफ एग्जीक्यूटिव ने कहा कि मैं माफी मांगता हूं, क्योंकि हमारी वजह से हजारों यात्रियों को तकलीफों का सामना करना पड़ा। यह हमारी हार है, मैं इस समस्या के लिए वास्तव में माफी मांगता हूं।

ट्रांसपोर्ट सचिव क्रिस ग्रेलिंग ने कहा कि कंपनी उड़ान के मामलों में 'प्राइज वार' का शिकार हो गई। इसलिए कस्टमर्स से कहा गया कि वो एयरपोर्ट पर ना आएं। हमलोग पूरी कोशिश कर रहे हैं कि जो लोग कहीं भी फंसे हुए हैं, उन्हें वापस लाया जाए। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि हम आशा करते हैं कि मोनार्क के 2,700 से ज्यादा कर्मचारी दूसरी जगह नौकरी पा सकेंगे।

मोनार्क के खत्म होने से विश्व की कई बड़ी कंपनियों के लिए समस्या पैदा होगी,क्योंकि उन्होंने मोनार्क में मुनाफे के लिए पैसा लगाया था। मोनार्क ब्रिटेन की पांचवीं सबसे बड़ी एयरलाइन है जिसमें करीब 2,700 लोग काम करते हैं। कंपनी ने पिछले साल 29.1 करोड़ पाउंड का नुकसान होने की जानकारी दी थी और उसे स्थानीय समयानुसार तड़के 4 बजे निगरानी के अधीन डाल दिया। कंपनी के मुख्य कार्यकारी एंड्रयू स्वैफील्ड ने कंपनी के संकट के लिए आतंकी हमलों को जिम्मेदार ठहराया है जिनके कारण एयरलाइन का राजस्व प्रभावित हुआ।


कमेंट करें