बिज़नेस

तेल ने बिगाड़ा मोदी सरकार का खेल, मूडीज़ ने घटाया GDP ग्रोथ अनुमान

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
622
| मई 30 , 2018 , 19:30 IST

रेटिंग एजेंसी मूडीज ने 2018 के लिए भारत का जीडीपी ग्रोथ अनुमान 7.5% से घटाकर 7.3% कर दिया है। मूडीज ने ग्रोथ अनुमान घटाने की वजह तेल कीमतों को बताया है। हालांकि 2019 के लिए ग्रोथ रेट 7.5% बरकरार रखी है। रेटिंग एजेंसी ने ग्लोबल मैक्रो आउटलुक 2018-19 के आंकड़ों में ये अपडेट किया है।

मंहगे पेट्रोल-डीजल ने बिगाड़ा खेल


मूडीज का मानना है कि भारत की इकोनॉमी पटरी पर लौट रही है, लेकिन तेल कीमतों में बढ़ोतरी और कमजोर वित्तीय हालातों की वजह से ग्रोथ धीमी होगी।

 

मूडीज ने कहा है कि न्यूनतम समर्थन मूल्य में इजाफे और सामान्य मॉनसून से ग्रामीण इलाकों में खपत बढ़ेगी जिससे विकास दर को फायदे की उम्मीद है। निजी निवेश में भी धीरे-धीरे सुधार देखने को मिलेगा। रेटिंग एजेंसी ने उम्मीद जताई है कि इन्सॉल्वेंसी और बैंकरप्सी कोड से बैंकों और कॉरपोरेट्स की हालत में सुधार होगा। मूडीज के मुताबिक गुड्स एंड सर्विस टैक्स की वजह से आने वाले महीनों में ग्रोथ पर नेगेटिव असर हो सकता है। साथ ही कहा है कि एक साल के अंदर ये सभी पहलू सुलझ जाएंगे।

7.5% रहेगी तिमाही जीडीपी ग्रोथ: एसबीआई


 स्टेट बैंक ऑफ इंडिया का अनुमान है कि 2017-18 की चौथी तिमाही में जीडीपी ग्रोथ दर 7.5% वहीं पूरे साल के लिए 6.7% रह सकती है। एसबीआई की रिपोर्ट ईकोरैप में ये अनुमान जताया गया है। रिपोर्ट के ऑथर और एसबीआई के ग्रुप चीफ इकोनॉमिक एडवाइजर सौम्या कांति घोष के मुताबिक, कॉर्पोरेट ग्रॉस वैल्यू एडेड (जीवीए) के अच्छे प्रदर्शन से मैन्युफैक्चरिंग ग्रोथ 9% रहने की उम्मीद है। साथ ही कहा है कि कृषि क्षेत्र की ग्रोथ केंद्रीय सांख्यिकी विभाग (सीएसओ) के अनुमान से बेहतर रहेगी। एसबीआई ने सर्विस सेक्टर की ग्रोथ 8% से ऊपर रहने की उम्मीद जताई है।


कमेंट करें