राजनीति

पार्टी कार्यकर्ताओं से बोले मुलायम, साइकिल बचाने की पूरी कोशिश कर रहा हूं

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
203
| जनवरी 11 , 2017 , 15:47 IST | लखनऊ

सपा अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव ने भले ही कुश्ती का मैदान छोड़ दिया हो पर उत्तर प्रदेश के चुनावी दंगल में मुलायम अपने ही बेटे से कहीं न कहीं चुनौती महसूस कर रहे हैं। उत्तर प्रदेश में चुनाव की तारीखों का एलान हो चुका है पर सपा की साइकिल मुलायम के पक्ष में है या अखिलेश के ये अबतक साफ़ नहीं हुआ है। पिता, बेटे और चाचा की आपसी खींचातानी में सपा दो गुटों में टूटने की कागार पर आ गई है।

बुधवार दोपहर लखनऊ के पार्टी कार्यालय में मुलायम सिंह यादव और शिवपाल यादव ने सपा कार्यकर्ताओं से मुलाकात की। कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए मुलायम ने पार्टी की अंदरूनी कलह पर भी बोले। उन्होंने कहा की पार्टी और पार्टी के चुनाव चिन्ह में कोई भी बदलाव नहीं होगा। मुलायम ने आगे बोला की सपा की सरकार बनने पर अखिलेश यादव ही होंगे मुख्यमंत्री।

मुलायम सिंह यादव के संबोधन की कुछ बड़ी बातें-

>पार्टी की एकता के लिए हमने पूरा समय दिया है, कोई भी बाधा नहीं डाल पाएगा।
>आपकी (कार्यकर्ताओं) की चिंता स्वाभाविक है क्योंकि समाजवादी पार्टी बेहद संघर्ष से बनी है।
>मैं दिल्ली जा रहा हूं, साइकिल को बचाने की पूरी कोशिश करूंगा।
>ना हम अलग पार्टी बना रहे हैं, ना सिम्बल बदल रहे हैं, वे(रामगोपाल गुट) दूसरी पार्टी बना रहे हैं।
>पार्टी तोड़ रहे हैं रामगोपाल यादव, अखिल भारतीय समाजवादी पार्टी नाम रख रहे हैं।
>हम किसी भी कीमत पर पार्टी को अलग नहीं करना चाहते, आप मेरे साथ रहिए, पार्टी को हम बचाएंगे।
>पार्टी का कौन शख्स दूसरे दलों के नेताओं से मिल रहा है, मुझे सब पता है।
>कितनी तकलीफें झेलीं मैंने और शिवपाल ने, हम दोनों कितनी बार जेल गए। शिवपाल रात को छुप जाता था दिन में प्रचार करता था।


कमेंट करें