ख़ास रिपोर्ट

हिला देगी आपको तुगलक के जुल्म से लड़ने वाली उस राजकुमारी की कहानी...

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
534
| जनवरी 25 , 2018 , 14:08 IST

फिल्म पद्मावत रिलीज़ होने के बाद देशभर में करणी सेना का विरोध जारी है, फिल्म को मिली जुली प्रतिक्रियाएं मिल रही हैं। फिल्म के विवाद के साथ देश में राजपूताना स्वाभिमान को लेकर नई बहस छिड़ गई है इतिहास को दोबारा खंगाला जा रहा है। न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया आपके लिए उसी इतिहास से राजपूत राजकुमारी की एक बेहद दिलचस्प कहानी लेकर आया है। कहानी 1300 ई. के आसपास की एक सच्ची घटना है। बुंदेलखंड के राजा राजा मानसिंह की खूबसूरत बेटी राजकुमारी केसर की ये कहानी राजपूत कल्चर और स्वाभिमान का वो नमूना है जिससे ज्यादातर युवा पीढ़ी अंजान है। 

Kudar

झांसी की राजकुमारी केसर के जौहर की कहानी

इतिहास के जानकारो के मुताबिक झांसी के गढ़ कुंडार किले का इतिहास भी कुछ अनसुलझी पहेली जैसा है। यहां चंदेलो का पहले से ही एक किला था। जिसे जिनागढ़ के नाम से जाना जाता था।
खंगार वंशीय खेत सिंह बनारस से 1180 के करीब बुंदेलखंड आए और जिनागढ़ पर कब्जा कर लिया। उन्होंने एक नए राज्य की स्थापना की। उनके पोते ने किले का नव निर्माण करवाया और इस किले का नाम गढ़ कुंडार रखा।
खंगार राजवंश के ही अंतिम राजा मानसिंह की एक सुंदर बेटी थी, जिसका नाम केसर था। उसकी सुंदरता के चर्चे दिल्ली तक थे। इसी कारण दिल्ली के सुल्तान मोहम्मद तुगलक ने राजकुमारी के साथ शादी करने का प्रस्ताव भेजा, लेकिन राजा मान सिंह ने इनकार कर दिया।

Garh-kundar

राजकुमारी का चेहरा देखना चाहता था मुहम्मद बिन तुगलक 


राजा के इनकार करने के बाद मोहम्मद तुगलक बैलगाड़ी पर सवार होकर मानसिंह के पास पहुंचा, जहां उसने राजकुमारी का चेहरा देखने की इच्छा जाहिर की, लेकिन राजा नहीं माने।
इस पर तुगलक ने गढ़कुंडार पर आक्रमण कर दिया, भयंकर नरसंहार हुआ। सेना को हारते देख राजकुमारी ने अपनी इज्जत बचाने के लिए किले की छत से जौहर कुंड में कूदकर जान दे दी।
ये देख किले में मौजूद दूसरी करीब 100 नौकरानियों-बच्चों ने भी राजकुमारी के बाद किले से कूद कर जौहर कर लिया।आज के समय में बुंदेलखंड में केसर के जौहर की गाथा लोक गीतों में भी पाई जाती है। मोहम्मद तुगलक ने किले और विजित भूभाग को बुंदेलों को सौंप दिया। सन 1531 में राजा रुद्र प्रताप ने बुंदेलों की राजधानी गढ़ कुंडार से ओरछा ट्रांसफर कर दी गई।


कमेंट करें