इंटरनेशनल

रोहिंग्या मुसलमानों के पलायन से हम भी चिंतित, मिलकर काम करना होगा- PM मोदी

ललिता सेन, न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
94
| सितंबर 6 , 2017 , 11:14 IST | ने पी तॉ

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का म्यांमार दौरा शुरू हो गया है। बुधवार को पीएम मोदी ने म्यांमार की स्टेट काउंसलर आंग सान सू की से मुलाकात की। इस बीच पीएम मोदी और आंग सान सू की की मौजूदगी में भारत और म्यांमार के बीच समझौतों का आदान प्रदान हुआ। इसके अलावा मुलाकात के दौरान पीएम मोदी ने रोहिंग्या मुसलमानों का मुद्दा भी उठाया। पीएम मोदी ने कहा कि भारत म्यांमार की चुनौतियों को समझता है और शांति के लिए हर संभव मदद करेगा।

डेलिगेशन लेवल वार्ता के बाद भारत और म्यांमार ने संयुक्त बयान जारी किया। पीएम मोदी ने कहा कि मैं 2014 में आसियान समिट में यहां आया था। स्वर्णिम भूमि म्यांमार में यह मेरी पहली यात्रा है। जिस तरह यहां मेरा स्वागत हुआ है, उसके लिए मैं सरकार का बहुत आभारी हूं। जिन चुनौतियों का आप मुकाबला कर रहे हैं, उन्हें हम समझते हैं। सिक्युरिटी फोर्सेस और हिंसा को लेकर चिंताओं को लेकर हम भागीदार हैं। लोगों पर इसका असर पड़ना लाजिमी है।"

पीएम मोदी ने कहा कि " हम सभी स्टेक होल्डर्स मिलकर इसका हल निकालेंगे। हम सभी शांति, न्याय और लोकतांत्रित व्यवस्था कायम करने की कोशिश करेंगे। पड़ोसी होने के नाते हम सबका हित एक ही हैं। सड़कों और पुलों का निर्माण हमारे अच्छे भविष्य की तरफ संकेत करते हैं।"

इससे पहले पीएम मोदी ने मंगलवार को म्यांमार पहुंचने के बाद ट्वीट किया, 'अभी ने प्यी ता पहुंचा, मेरी म्यांमार यात्रा यहीं से शुरू होगी। म्यांमार की यात्रा के दौरान मैं कई कार्यक्रमों में शामिल होऊंगा'।


कमेंट करें