मनोरंजन

60 से ज्‍यादा विजेताओं ने नेशनल अवार्ड्स का किया बायकॉट, ये है वजह

न्यूज़ वर्ल्ड इंडिया | 0
871
| मई 3 , 2018 , 16:12 IST

आज (3 मार्च) दोपहर दिल्ली स्थित विज्ञान भवन में राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार समारोह का आयोजन किया जाना है। इस दौरान सिनेमा के विभिन्न क्षेत्रों से कुल 140 कलाकारों को पुरस्कार दिया जाएगा। इसके लिए सभी विनर्स 2 मई की दोपहर तक दिल्ली पहुंच गए और विज्ञान भवन में इवेंट की रिहर्सल भी अटेंड की।

हालांकि सभी विजेता उस वक्त चौंक गए, जब उन्हें ये पता चला कि इस इवेंट पर सिर्फ 11 विजेताओं को ही राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा अवॉर्ड दिया जाएगा। बाकी सभी विजेताओं को सूचना एवं प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी द्वारा अवॉर्ड दिया जाएगा।

कार्यक्रम सूची देखने के बाद उन्हें पता चला कि बाकी के अवॉर्ड्स उन्हें केन्द्रीय सूचना और प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी, राज्यवर्धन सिंह राठौड़, सूचना और प्रसारण मंत्रालय के सचिव नरेन्द्र कुमार सिन्हा प्रदान करेंगे। कार्यक्रम की इस लिस्ट में यह भी बताया गया है कि कोविन्द शाम 5:30 बजे वेन्यू पर पहुंचेंगे, जिससे पहले देपहर 3:30 बजे से लेकर शाम 5:30 बजे तक ईरानी और राठौड़ अधिकतर अवॉर्ड प्रदान करेंगे। इसमें आगे यह भी बताया गया है कि सेरिमनी के बाद वहां मौजूद सभी विनर्स हर बार की तरह राष्ट्रपति के साथ फोटोशूट करवाएंगे। ऐसे में खबर हैं कि कई विजेता राष्‍ट्रीय पुरस्‍कारों का बहिष्‍कार करने वाले हैं।

इसके बाद डायरेक्टरेट ऑफ फिल्म फेस्टिवल ने सभी से आग्रह किया कि वो अपनी शिकायत सीधे स्मृति ईरानी से कर सकते हैं। दरअसल, 1954 से चली आ रही प्रथा के अनुसार, राष्ट्रपति ही अवॉर्ड वितरण करते हैं। इस बात को लेकर विजेता इस बार गुस्सा गए क्योंकि उन्हें इस साल किया गया ये बदलाव मंजूर नहीं था। ऐन मौके पर उन्हें इस बात की सूचना दी गई जिसके चलते ये विनर्स और भी ज्यादा नाराज हैं।

विजेताओं को मनाने आगे आईं स्मृति ईरानी-

इसके बाद स्मृति ईरानी ने विजेताओं से मुलाकात की और बताया कि राष्ट्रपति ने इस इवेंट के लिए उन्हें मात्र एक घंटे का समय दिया है। ऐसे में समय की पाबंदी के चलते वो सभी को अवॉर्ड वितरित नहीं कर सकते हैं। इसी के चलते अवॉर्ड वितरण एक लिए अन्य मिनिस्टर्स की मदद ली जा रही है। इसके बाद विजेताओं ने स्मृति ईरानी से कहा कि क्यों ना भाषण और फोटो-ऑप के लिए जो समय निर्धारित किया गया है उसे हटा दिया आए ताकि बचे हुए समय में राष्ट्रपति स्वयं सभी को सम्मानित कर सकेंगे। या फिर खुद स्मृति इरानी ही सभी अवॉर्ड को पेश करें क्योंकि इस तरह से विजेताओं के बीच भेदभाव उन्हें मंजूर नहीं। इसके बाद एक बार फिर इस इवेंट को बहिष्कार करने की धमकी दी गई।

अंत में स्मृति ईरानी ने मीटिंग में सभी को आश्वासन दिया है कि उन्होंने राष्ट्रपति के दफ्तर को सूचना भेजी है। इस मामले में जैसे ही उनका जवाब आता है सभी को सूचित किया जाएगा। हालांकि अब तक किसी को कोई जवाब नहीं मिला है लेकिन सभी से ये आग्रह किया गया है कि 3.15 तक सभी को विज्ञान भवन में मौजूद रहना होगा। अब ये कयास लगाया जा रहा है कि सरकार अपनी मर्जी के अनुसार ही अवॉर्ड वितरित करेगी और राष्ट्रपति भी अपने शेड्यूल के अनुसार 5.30 बजे इस इवेंट में पहुंचेंगे।

इन 11 पुरस्‍कारों को देंगे राष्‍ट्रपति-

दादासाहेब फाल्‍के पुरस्‍कार : विनोद खन्ना
बेस्‍ट एक्‍ट्रेस: श्रीदेवी, (मॉम)
राष्‍ट्रीय एकता पर बनी फीचर फिल्‍म को नर्गिस दत्त अवॉर्ड: धप्‍पा
सिनेमा पर बेस्‍ट बुक: मातामगी मनीपुर
बेस्‍ट जसारी फिल्‍म: सिंजर
बेस्‍ट डायरेक्‍टर: नागराज मंजुले
बेस्‍ट मेल प्‍लेबैक सिंगर: के जे यसुदास
बेस्‍ट म्‍यूजिक डायरेक्‍शन: ए आर रहमान
बेस्‍ट एक्‍टर: रिद्ध‍ि सेन
बेस्‍ट डायरेक्‍शन: जयराज
बेस्‍ट फीचर फिल्‍म: विलेज रॉकस्‍टार


कमेंट करें